वाराणसी में ऑटो चालक की निर्मम हत्या, चेहरे को तेजाब से जलाया, आरोपी गिरफ्तार

Haimendra Singh, Last updated: Tue, 11th Jan 2022, 1:32 PM IST
  • वाराणसी में ऑटो चालक की बड़ी बेहरमी से हत्या कर दी गई है. हत्या के बाद मृतक के चेहरे को तेजाब से जलाने का प्रयास किया गया है. मौके पर मिले सबूतों के आधार पर पुलिस हत्या की पुष्टि करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया है.
वाराणसी में ऑटो चालक की हत्या.( सांकेतिक फोटो )

वाराणसी. वाराणसी के चितईपुर थाना क्षेत्र में एक युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई है. युवक का शव भिखारीपुर हाइडिल के समीप स्थित शुलभ शौचालय के पीछे मिला है. हत्या के शव के चेहरों के तेजाब से जलाने का प्रयास किया है. मंगलवार की सुबह पास ही में एक चाय की दुकान चलाने वाले ने पुलिस को हत्या की सूचना दी. सूचना बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्डम के लिए भेज दिया है. मृतक की पहचान 38 वर्षीय रामसजीवन जयसवाल के रुप में हुई है. मौत सूचना मिलने के बाद परिवार में कोहराम मच गया है. पुलिस ने गुमटी संचालक और शौचालय की देखभाल करने वाले को हिरासत में लिया है. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

भेलूपुर थाना क्षेत्र के न्यू कॉलोनी ककरमत्ता का रहने वाला रामसजीवन जयसवाल ऑटो चलवाने के साथ ही हाइडिल के समीप सड़क पर नारियल पानी का दुकान लगाता था. दुकान की देखभाल करने के लिए दुकान पर ऑटो चालक राजेश के साथ सोते था. सोमवार की रात 9 बजे ऑटो चालक राजेश के लिए टिफिन में घर से खाना लेकर अपने नारियल पानी की दुकान के लिए निकला. लेकिन वह दुकान पर भी नहीं पहुंचा. पुलिस को मंगलवार की सुबह रामसजीवन की बॉडी मिली. मृतक के परिवार में पत्नी लक्ष्मी देवी, छोटा भाई दीपक, बेटी प्रिया,बेटा प्रियांशु, प्रिंस और देव है.

प्रेमी के दोस्त पर आया प्रेमिका का दिल, साथ रहने के लिए उठाया ये खौफनाक कदम

मृतक के छोटे भाई दीपक ने डीसीपी को बताया कि सामने सुलभ शौचालय चलाने वाला विजय नामक युवक बिना कारण रंजिश रखता था. दो दिन पहले भी रामसजीवन से विवाद होने पर त्रिशूल लेकर मारने के लिए दौड़ाया था. पुलिस को शौचालय के बगल में छिपाकर रखे प्लास्टिक के बाल्टी में मृतक की हत्याकर खून से सना गमच्छा मिला. गमच्छे पर जमे खून के थक्के से पुलिस ने हत्या की पुष्टि की. पुलिस ककरमत्ता पेट्रोल पंप से घटना स्थल तक लगे सारे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में जुट गई है. इसके लिए भेलूपुर और लंका थाने की तीन टीमें पुलिस की लगाया गया है. घटना के बाद रात दो बजे आरोपी ने शौचालय की सफाई कराया और पुलिस के पूछने पर कहने लगा कि रात में नगर निगम के लोग सफाई करने आये थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें