वाराणसी: BHU अस्पताल में मरीज का शव मिलने पर बढ़ी सुरक्षा, खिड़की पर जाली, CCTV

Smart News Team, Last updated: 25/08/2020 07:52 PM IST
  • BHU अस्पताल में आए दिन मरीजों के भागने और एक मरीज के कूद कर जान देने के बाद अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. अस्पताल की खिड़कियों में अब जाली लगाया जाएगा. साथ ही CCTV कैमरें से भी निगरानी की जाएगी.
बीएचयू अस्पताल से मरीजों के भागने और कूदकर जान देने की घटना के बाद अस्पताल की सुरक्षी व्यवस्था बढ़ा दी गई है.

वाराणसी. BHU के सर सुंदरलाल अस्पताल के सुपर स्पेशियलिटी कोविड-19 की सुरक्षा व्यवस्था को आने वाले दिनों में और चाक चौबंद किया जाएगा. अस्पताल से कोविड-19 संक्रमित मरीजों के फरार होने और कूदकर जान देने की घटना के बाद प्रशासन और सतर्क हो गया है. बढ़ती घटनाओं को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था पहले से ज्यादा बढ़ा दी है. वहीं, सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक को सुरक्षित बनाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है. 

BHU अस्पताल में मृत मिले युवक के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच का आदेश: DM

BHU के चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर ओपी राय ने बताया कि अस्पताल को सुरक्षित करने के लिए यहां गार्डों की संख्या और पेट्रोलिंग बढ़ा दी गई है. रैंप पर भी दरवाजे लगाए जाएंगे. कोविड-19 वार्ड का दरवाजा बंद रखा जाएगा और वहां हमेशा एक केयरटेकर बैठा रहेगा. स्लाइडर वाली सभी खिड़कियों में बाहर से जाली लगाई जाएगी ताकि कोई स्लाइडर का दरवाजा खोल कर खुद न सके. वार्ड में कई जगह कैमरे और लगाए जाएंगे इसकी मॉनिटरिंग एक कंट्रोल रूम में गार्ड के द्वारा कराई जाएगी. वार्ड में टेलीविजन भी लगाया जाएगा. इसके अलावा समाचार पत्रों की प्रतियां भी रखी जाएंगी ताकि मरीज इंटरटेनमेंट कर सकें व अकेलापन महसूस ना करें.

वाराणसी: जिला अस्पताल में डीएम का दौरा, कोविड वार्ड में कैमरे लगाने का निर्देश

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में BHU के कोविड-19 सुपर स्पेशियलिटी से कुछ मरीज भाग गए थे. वहीं, पिछले दिनों एक गायब मरीज का शव अस्पताल परिसर में मिलने से हंगामा मच गया. ऐसे में, अस्पताल प्रशासन पर सवाल उठने लगे हैं. इन सब वजहों को ध्यान में रखकर ही अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था को और बढ़ाने का निर्णय लिया गया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें