वाराणसी: BHU में भर्ती मरीज की मौत पर परिजनों का हंगामा, लापरवाही का लगाया आरोप

Smart News Team, Last updated: 06/09/2020 11:58 AM IST
  • बीएचयू अस्पताल में मरीज की मौत हो जाने के बाद परिजनों ने हंगामा किया. एसीयू में तोड़फोड़ की. तोड़फोड़ किए जाने पर बीएचयू प्रशासन की तरफ से लंका थाना में तहरीर दी गई है.
बीएचयू अस्पताल में मरीज की मौत हो जाने के बाद परिजनों ने हंगामा किया.

वाराणसी. वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत हो जाने के बाद मरीज के परिजनों ने बीएचयू अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है. परिजनों ने इस दौरान जमकर एसीयू में तोड़फोड़ किया. जानकारी के अनुसार मौके पर लंका पुलिस पहुंच गई. बताया जा रहा है कि पांडेयपुर निवासी 29 वर्षीय राहुल श्रीवास्तव को सांस की समस्या होने पर एसीयू में भर्ती कराया गया था. आज उसकी मौत हो गई.

मरीज के परिजनों द्वारा सर सुंदर लाल अस्पताल में तोड़फोड़ किए जाने के संबंध में बीएचयू प्रशासन की तरफ से लंका थाना में तहरीर दी गई है. बीएचयू प्रशासन ने तहरीर में बताया कि वाराणसी निवासी राहुल श्रीवास्तव की सुबह 5 बजे सर सुंदर लाल अस्पताल में मौत हो जाने के बाद मरीज के परिजनों विनित कुमार और प्रकाश कुमार ने सरकारी सम्पति को नुकसान किया. 

वाराणसी: बाढ़ का कहर, वरुणा किनारे से पलायन शुरू, ट्रक ने चालक को ही कुचला

जिसमें एसीयू का सेक्सन मशीन दवाई इत्यादि नुकसान हुआ. बीएचयू प्रशासन ने लंका थानाध्यक्ष से कार्यवाही करने का निवेदन किया है. 

जानकारी के अनुसार 31 जुलाई को राहुल श्रीवास्तव को बीएचयू अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था. 10 दिन पहले उसकी कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. इसके बाद भी बीएचयू के डॉक्टरों द्वारा कोविड का इलाज किया जा रहा था. जबकि परिजन राहुल श्रीवास्तव को दूसरे वार्ड में शिफ्ट करने के लिए लगातार डॉक्टरों के यहां गुहार लगा रहे थे.

बताया जा रहा है कि कल युवक की तबियत बिगड़ने के बाद डॉक्टरों ने आनन- फानन में एसीयू में शिफ्ट किया. आज सुबह युवक की मौत हो गई. युवक की मौत से नाराज परिजनों ने वार्ड में तोड़ फोड़ की.

परिजनों ने आरोप लगाया कि सांस की बीमारी के बावजूद भी डॉक्टरों द्वारा कोविड का इलाज किया जा रहा था.

पिछले कुछ दिनों से बीएचयू अस्पताल में मरीजों के इलाज में लापरवाही बरतने की खबरें आती रही है. 7 दिन पहले कोरोना के मरीज की लापता होने की घटना सामने आई थी. 

वाराणसी में बदमाशों के हौसले हुए बुलंद, धमकी देकर कैश और चेन लूटा

इससे पहले भी एक कोरोना मरीज लापता हुआ था. परिजनों के हंगामा करने के बाद दूसरे दिन ही कोरोना मरीज की लाश अस्पताल परिसर में मिली थी. इसके बाद अस्पताल परिसर की सुरक्षा बढ़ाने का दावा किया गया था. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीएचयू में बैठक के दौरान नराजगी भी जताई थी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें