वाराणसी: बीएड प्रवेश परीक्षा में दिखी लापरवाही, कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ा

Smart News Team, Last updated: 10/08/2020 12:49 AM IST
  • वाराणसी में बीएड प्रवेश परीक्षा में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, परीक्षा केंद्रों के बाहर एक दूसरे से सटे नजर आए परीक्षार्थी, - दो पारियों में आयोजित हुई परीक्षा, सुबह 9 से 12, दोपहर 2 से 5 हुई परीक्षा
बीएड प्रवेश परीक्षा

वाराणसी। लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा वाराणसी में आयोजित बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती हुई दिखाई दी.

परीक्षा केंद्रों के बाहर हजारों छात्र एक-दूसरे से सटे हुए नजर आए. परीक्षा केंद्रों पर एक घंटे पहले ही परीक्षार्थियों को बुला लिया गया था लेकिन उनके बैठने की कोई व्यवस्था नहीं थी.

गेट में ताला लगा होने के चलते मजबूरन सभी परीक्षार्थी गेट के बाहर सड़कों पर एक-दूसरे के नजदीक बैठे हुए नजर आए.

कहीं भी दो गज की दूरी की गाइडलाइन फॉलो नहीं की जा रही थी. जिसके चलते कोरोना संक्रमण का खतरा और भी बढ़ गया है.

वहीं दूसरी पाली की परीक्षा के पहले कुछ परीक्षार्थी बिना मास्क के नजर आए. परीक्षार्थी कड़ी धूप व गर्मी के चलते मास्क हटा कर बैठे हुए. थोड़ी राहत मिलने के बाद दोबारा मास्क लगा रहे थे.

परीक्षा दो पालियों में आयोजित की गई थी. पहली पाली की परीक्षा सुबह 9 से 12 बजे तक जबकि दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 2 से 5 बजे तक हुई.

परीक्षा से पहले सभी केंद्रों को सैनेटाइज कराया गया. साथ ही छात्रों की थर्मल स्कैनिंग व टेंपरेचर मेज़रमेंट के बाद ही उन्हें परीक्षा केंद्र के कमरे में प्रवेश दिया गया.

जिन परीक्षार्थियों का टेंपरेचर अधिक था उन्हें अलग कमरे में आईसोलेट कर परीक्षा दिलाई गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें