वाराणसी: चेन स्नेचर ने खुद को एसएसआई का चालक बता पुलिस पर जमाया धौंस

Smart News Team, Last updated: 17/08/2020 11:19 PM IST
  • वाराणसी में जब चेन स्नेचर पुलिस के हत्थे चढ़ा तो खुद को सिगरा थाने एसएसआई का निजी चालक बताकर धौंस जमाने की कोशिश की लेकिन पुलिस अधिकारियों ने दो शातिर चेन स्नेक्चरों को दबोच दो लाख रूपए कीमत की सोने की चैन व जिंदा कारतूस सहित देशी कट्टा बरामद किया.
क्राइम

यूपी के वाराणसी में लंका, सिगरा, लोहता सहित अन्य इलाके में पिछले कई दिनों से ताबड़तोड़ चेन स्नेचिंग की वारदात कर दहशत फैलाने वाले दो शातिर बदमाश आज लंका पुलिस के हत्थे चढ़ गए. वे दोनों नरिया में वाहन चेकिंग के दौरान पकड़े गए.

लंका पुलिस क्राइम टीम में उपनिरीक्षक शशि प्रताप सिंह ने बताया कि दोनों शातिर स्नेचरों के कब्जे से चोरी की दो मोटरसाइकिल, एक देशी कट्टा, तीन कारतूस और लगभग दो लाख कीमत की सोने की तीन चेन और लाकेट बरामद किया है.

गिरफ्तार दोनों आरोपियों में रिंकू मोदनवाल व इकबार फारूकी बड़ी गैबी इलाके के रहने वाले हैं. दोनों बदमाश बड़ी गैबी स्थित रुद्र ज्वेलर्स के संचालक अमित वर्मा को चेन बेचने का काम करते थे. इस बार गहनों के पैसे में 25 हजार अमित ने पेटीएम से रिंकू को खाते में डाला था. पुलिस ने वह खाता सीज कर दिया है और उसके अलावा नखत पुलिस ने 17000 हजार रुपए के साथ कुल 42000 हजार रूपए बरामद किए हैं.

आरोपी रिकू मोदनवाल ने बताया कि घर को लेकर उसकी पत्नी से विवाद चल रहा था. पत्नी मायके में रहती है. पत्नी को राजी कर घर बनवाने के लिए चेन लूट को सबसे सफल मार्ग चुना. पुलिसकर्मियों के वाहनों को चलाकर सन्देह होने से बचता था. अब तक रिंकू दर्जनों लूट कर चुका है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें