वाराणसी शहर को चमकाएगी जर्मनी की स्वीपिंग मशीन, गांधी जयंती से होगी शुरुआत

Smart News Team, Last updated: 06/09/2020 09:48 PM IST
  • वाराणसी शहर की सड़कों को अब जर्मनी की मैकेनाइज्ड स्वीपिंग मशीन से चमकाया जाएगा. गांधी जयंती पर डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के साथ इसकी शुरुआत होगी. वाराणसी नगर निगम का एक निजी कंपनी के साथ करार हुआ है जिसके तहत 22 किलोमीटर की सड़कों को साफ किया जाएगा.
इस तरह से सड़कों को साफ करेगी मैकेनाइज्ड स्वीपिंग मशीन.

वाराणसी. शहर की मुख्य सड़कों को अब जर्मनी की मैकेनाइज्ड स्वीपिंग मशीन से साफ किया जाएगा. इसकी शुरुआत अगले महीने से डोर- टू -डोर कूड़ा कलेक्शन के साथ होगी.

जानकारी के साथ वाराणसी नगर निगम का एक निजी कंपनी के साथ समझौता हुआ. इस समझौते के अनुसार शहर में 22 किलोमीटर क्षेत्र में भोपाल की तर्ज पर डिवाइडर के पास जमी धूल की परतों को भी हटाया जाएगा. इसके साथ ही समय-समय पर मशीनों के द्वारा सड़कों की धुलाई भी की जाएगी.

वाराणसी: कोरोना काल में बिना परमिशन ले रहे थे फिल्म ऑडिशन, डायरेक्टर पर केस

 स्वीपिंग मशीन के द्वारा शिवपुरी से बीएचयू सिंह द्वार तक सफाई की जाएगी. इसमें भोजूबीर, अर्दली बाजार, कचहरी, नदेसर, चौकाघाट, तेलियाबाग, लहुराबीर, मैदागिन, गोदौलिया, सोनारपुरा, भेलूपुर, रवींद्रपुरी, लंका रूटों को शामिल किया गया है. नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि मुख्य सड़कों पर देर रात सफाई की जाएगी इसके अलावा रूप में संशोधन भी होगा.

वाराणसी: दो युवतियां लापता, शनिवार को बाजार से घर नहीं लौटीं, पुलिस की जांच शुरू

अपर नगर आयुक्त डीडी वर्मा का कहना है कि 22 किलोमीटर मुख्य सड़कों पर नई मैकेनाइज्ड स्वीपिंग मशीन से सफाई कराई जाएगी. इसकी शुरुआत गांधी जयंती से होगी.

वाराणसी: मंडुवाडीह में विजिलेंस टीम का बिजली चोरों पर छापा, कटियामारों पर सख्ती

आपको बता दें कि नगर निगम के पास पहले से दो स्वीपिंग मशीन है. सीएसआर के तहत कंपनियों से निगम को यह मशीनें मिली है.इसमें एक मशीन निगम के पेट्रोल पंप के परिसर में लंबे समय से खराब पड़ी है जबकि दूसरी मशीन का इस्तेमाल केवल वीआईपी के आगमन पर ही निर्धारित क्षेत्र में किया जाता है. इन दोनों मशीनों से सफाई के साथ धुलाई और धूल को हटाया जा सकता है. लेकिन अधिकारियों की सुस्ती की वजह से अभी तक शहर में इन मशीनों का बेहतर इस्तेमाल नहीं हो पाया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें