सनबीम स्कूल छात्रा दुष्कर्म मामलाः स्कूल प्रबंधन से SIT की पूछताछ, पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज

Sumit Rajak, Last updated: Wed, 1st Dec 2021, 5:51 PM IST
  • लहरतारा स्थित सनबीम स्कूल में कक्षा तीन की छात्रा के साथ दुष्कर्म की घटना को लेकर परिजनों का आक्रोश थम नहीं रहा है. इस बीच मामले में वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस की ओर से बड़ी कार्रवाई की सूचना मिल रही है. आरोपित सफाईकर्मी अजय कुमार उर्फ सिंकू की गिरफ्तारी के बाद अब इस्टेट मैनेजर दिलीप सिंह को भी पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.
प्रतीकात्मक फोटो

वाराणसी. लहरतारा स्थित सनबीम स्कूल में कक्षा तीन की छात्रा के साथ दुष्कर्म की घटना को लेकर परिजनों का आक्रोश थम नहीं रहा है. इस बीच मामले में वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस की ओर से बड़ी कार्रवाई की सूचना मिल रही है. आरोपित सफाईकर्मी अजय कुमार उर्फ सिंकू की गिरफ्तारी के बाद अब इस्टेट मैनेजर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

एसआईटी की तीन दिन की छानबीन में मिली रिपोर्ट के आधार पर लहरतारा स्थित सनबीम स्कूल के इस्टेट मैनेजर दिलीप सिंह को भी पाक्सो एक्ट में आरोपित पाया गया. दिलीप सिंह पर दुष्प्रेरण का आरोप है. इसके पहले एसआईटी ने स्कूल प्रबंधन के चेयरमैन, इस्टेट मैनेजर समेत 10 कर्मचारियों से रात भर पूछताछ करती रही.आरोपी सफाईकर्मी अजय कुमार उर्फ सिंकू को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ करने के लिए सिगरा पुलिस ने कोर्ट में अर्जी दाखिल कर दी है. आरोपी स्वीपर शिनाख्त कैंट थाना स्थित मानस नगर पसियाना के निवासी है.

वाराणसी: सीवर मैनहोल में गिरे सफाईकर्मी की मौत, NDRF ने सुबह 6 बजे निकाला शव

लहरतारा स्कूल में स्टेट मैनेजर ने ही सफाईकर्मी की भर्ती की थी

गिरफ्तार किये गये इस्टेट मैनेजर दिलीप सिंह ने ही आरोपित सफाईकर्मी अजय कुमार की भर्ती की थी.बताया जा रहा कि उसकी भर्ती बिना सत्यापन किये ही कर दी गई थी. यहां काम करने के महज 15 दिन बाद ही सफाईकर्मी ने कक्षा तीन की छात्रा के साथ दूसरे तल के लड़कों के शौचालय में 26 नवंबर को दुराचार किया था. घटना के बाद आरोपी स्वीपर को वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने कुछ ही घंटों में गिरफ्तार कर लिया था और स्वीपर के ऊपर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लगाने की कार्रवाई की बात कही. वहीं मंगलवार को बाल अधिकार संरक्षण आयोग की टीम ने भी स्कूल में निरीक्षण किया था.

पुलिस लाइन के डीसीपी कार्यालय में एसआईटी ने रात भर बैठाया गया

घटना के तीसरे दिन रविवार को पुलिस आयुक्त ने जांच के लिए एसआईटी गठित की थी. एसआईटी की तीन दिन की छानबीन के बाद मंगलवार की रात स्कूल समूह के चेयरमैन समेत 10 कर्मचारियों को पुलिस लाइन स्थित डीसीपी कार्यालय में बैठाकर सुबह तक पूछताछ की जाती रही. दोपहर  होने के बाद इस्टेट मैनेजर दिलीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया. एसआईटी प्रभारी एवं डीसीपी वरुणा जोन विक्रांत वीर ने बताया कि कोर्ट में पेश कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है. डीसीपी वरुणा जोन विक्रांत वीर ने बताया कि आरोपी के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें