बैंक कर्मी से साइबर ठगी, ऐसा दिया लालच की 12 बार में ठगे लाखों रुपये

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 07:51 AM IST
  • रामपुर वार्ड निवासी विपिन कुमार उपाध्याय से 19 लाख रुपये ऑनलाइन ठगी हुई. मामले में एस पी क्राइम के निर्देश पर रामनगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. विपिन उपाध्याय ने धोके में आकर कुल 12 बार में 19 लाख 1 हजार रुपये ऑनलाइन जमा कराए थे.
Online fraud-representational image

वाराणसी.  वाराणसी के रामपुर वार्ड निवासी विपिन कुमार उपाध्याय से 19 लाख रुपये ऑनलाइन ठगी का मामला सामने आया है. इस मामले में एस पी क्राइम के निर्देश पर रामनगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी की तैयारी हो रही है.

जानकारी के अनुसार इस मामले में पीड़ित रामपुर वार्ड निवासी विपिन उपाध्याय रविन्द्रपुरी स्थित एक बैंक में हेड कैशियर के बतौर काम करते है. उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में एक इंश्योरेंस कंपनी से एक पालिसी खरीदी थी, जिसके तहत उन्हें 82190 रुपये सलाना किश्त जमा करनी होती थी. 29 जुलाई के दिन विपिन उपाध्याय के मोबाइल पर फोन आता है कि पालिसी के तहत कुछ उन्हें छूट आई है. विपिन उपाध्याय ने बताया कि मोबाइल पर उन्हें एक किश्त देने के बाद 6 लाख रुपये वापस मिलेंगे का ऑफर दिया गया. विपिन उपाध्याय ने धोके में आकर कुल 12 बार में 19 लाख 1 हजार रुपये ऑनलाइन जमा करा दिए. 

वाराणसी: कोरोना काल में बिना परमिशन ले रहे थे फिल्म ऑडिशन, डायरेक्टर पर केस

 विपिन उपाध्याय ने जब पूछा कि रुपये कहां जमा हो रहे है. इस पर तथाकथित कंपनी के कर्मचारियों ने विपिन उपाध्याय को बताया कि रुपये पालिसी खाते में ही जमा हो रहे है. विपिन उपाध्याय से 3 सिंतबर को ठगों ने 60 हजार रुपये जमा करवाये थे. ठगों ने उनसे 5 अलग-अलग खातों में यह रुपया जमा करवाया. 

वाराणसी कोरोना अपडेट: बनारस में 187 नए कोरोना केस, चार लोगों की मौत

ठगों द्वारा बार-बार रुपये मांगने पर विपिन का शक हुआ. जब उन्होंने ने इसकी जांच की तो पता चला कि उनके साथ हुई धोखाधड़ी हुई है. धोखाधड़ी की घटना के बारे में विपिन ने एस पी क्राइम से मिलकर बताया. मामले में एस पी क्राइम के निर्देश पर रामनगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें