वाराणसी डीएम ने गैंगस्टर के आरोपितों की संपत्ति जब्त करने का दिया आदेश

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 07:27 AM IST
  • वाराणसी डीएम कौशल राज शर्मा ने फर्जी कंपनी बनाकर फ्राड करके सैकड़ों लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाले पांच आरोपितों की 8.70 करोड़ की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया है. 
वाराणसी डीएम कौशल राज शर्मा.

वाराणसी. वाराणसी में फर्जी कंपनी बनाकर फ्राड करके सैकड़ों लोगों को ठगने वाले पांच आरोपितों की संपत्ति जब्त की जाएगी. वाराणसी डीएम कौशल राज शर्मा ने इन पांच आरोपितों को गैंगस्टर एक्ट के तहत सभी को 8 करोड़ 70 लाख 69 हजार 573.07 रुपये की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया है. जानकारी के अनुसार इन पांच आरोपियों ने आसम इन्फ्रा प्रोजेक्ट लिमिटेड और अन्य फर्म बनाकर सैकड़ों लोगों से लाखों रुपये का निवेश कराके करोड़ों रुपये की ठगी की है. 

वाराणसी जिला प्रशासन  ने अब इन पांच आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए निर्णय लिया है कि इन पांच आरोपितों के नाम पर कुल 8.70 करोड़ की संपत्ति जब्त की जाएगी. बताया जा रहा है कि इन पांच आरोपियों के खिलाफ वाराणसी के कैंट थाने में केस दर्ज है. कैंट थाने की पुलिस ने इन पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. 

वाराणसी: सिपाही भर्ती के नाम पर फ्रॉड, 55 हजार रुपये ठगा, आरोपी गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार इन पांच आरोपियों में फुलवरिया के निवासी अजय प्रकाश, चोलापुर के बेनीपुर निवासी रविंद्र कुमार वर्मा, आयर के निवासी राजेंद्र प्रसाद, बड़ागांव के महदेपुर निवासी धर्मेंद्र कुमार और भदोही के गोपीगंज के जंगलपुर के निवासी अमरनाथ मौर्या है. कैंट थाने में इन पांच आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी और गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है. 

वाराणसी: बेरोजगारी के खिलाफ SP का प्रदर्शन, पुलिस लाठीचार्ज, 40 एरेस्ट, कई घायल

बताया जा रहा है कि इनकी संपत्ति वाराणसी और मिर्जापुर में है.  पुलिस ने बताया कि सदर तहसील के छितौनी में दो जमीन है. वहीं, बैदौली, हरिहरपुर, अजोरपट्टी, भट्टी में एक जमीन है. जबकि, मिर्जापुर के मड़िहान तहसील के कंतित के गढ़वा तप्पा में कुल सात जगहों पर आरोपितों की जमीन है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें