वाराणसी: किसान आंदोलन के कारण लगे जाम में फंसे ट्रक, रोजमर्रा के सामान में कमी

Smart News Team, Last updated: 05/12/2020 05:12 PM IST
  • लगातार हाईवे बंद होने की वजह से शहर में आने वाले रोज इस्तेमाल होने वाले सामान की कमी हो दिखने लगी है. वाराणसी से सामान लाने वाले नौ ट्रक अभी रास्ते में फंस गए हैं जिसके कारण सामान आ नहीं पा रहा है. इन सभी में साड़ी, सर्दी के कपड़े, गर्म कपड़े, मसाले, हौजरी का सामान आदि है.
किसान आंदोलन के कारण ट्रक में लदा सामान भी नहीं पहुंच पा रहा.(फाइल फोटो)

वाराणसी. दिल्ली के आसपास के इलाकों में किसान आंदोलन के कारण हुए रोड जाम के कारण आमलोगों की समस्या बढ़ गई हैं. लगातार हाईवे बंद होने की वजह से शहर में आने वाले रोज इस्तेमाल होने वाले सामान की कमी हो दिखने लगी है. वाराणसी से सामान लाने वाले नौ ट्रक अभी रास्ते में फंस गए हैं जिसके कारण सामान आ नहीं पा रहा है. इन सभी में साड़ी, सर्दी के कपड़े, गर्म कपड़े, मसाले, हौजरी का सामान आदि है. किसान लगभग पिछले 10 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं. 

कन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स के प्रदेश चेयरमैन संजय गुप्ता और प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र गुप्ता के ने बताया है कि लगातार किसानों के आंदोलन के कारण शहर में सामान की कमी हो रही है. कैट के पूर्वांचल प्रभारी अभिषेक मिश्रा ने कहा है कि फरीदाबाद, गुड़गाव, मेरठ, पानीपत, मुरादाबाद और राजस्थान के कारखानों से सामान की आपूर्ति काफी प्रभावित हुई है. बनारस ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष जेपी तिवारी ने कहा है कि वाराणसी गए 400 ट्रक वापिस नहीं लौटे हैं. वे अभी आंदोलन के कारण फंसे हुए हैं. 

वाराणसी: लोटा भंटा मेला की तैयारी पूरी, लेकिन प्रशासनिक तैयारियां अधूरी

केंद्र सरकार के पारित किये गए तीन कृषि कानून के कारण किसान लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली से जाने वाले सभी हाईवे लगातार जाम किये जा चुके हैं इसलिए लोगों को खाने पीने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है. वहीं किसानों की मांग है कि सरकार इन तीन कृषि कानूनों को निरस्त कर दें.

वाराणसी: नीलांचल एक्सप्रेस की चपेट में आकर एक युवक की मौत, डेढ़ घण्टे ट्रैक जाम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें