आरक्षी भर्ती परीक्षा मेडिकल में फेल को पास कराने के नाम पर ठगी, दलाल गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 16/09/2020 10:11 PM IST
आरक्षी भर्ती परीक्षा-2018 में एक दलाल ने री- मेडिकल के नाम पर मेडिकल में फेल एक व्यक्ति से 55 हज़ार ले लिए. इसके बाद व्यक्ति द्वारा कैंट पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई. पुलिस ने दलाल को गिरफ्तार कर लिया है.
कैंट पुलिस ने एक दलाल को आरक्षी भर्ती परीक्षा के मेडिकल में पास कराने के लिए 55 रुपये लेने पर गिरफ्तार किया है.

वाराणसी. पुलिस लाइन में चल रहे आरक्षी भर्ती परीक्षा-2018 के मेडिकल परीक्षण में एक अभ्यर्थी को मेडिकल परीक्षण में फेल होने पर पास कराने का झांसा देकर एक दलाल ने उससे 55 हज़ार ले लिए. कैंट पुलिस ने इस संबंध में दलाल को बुधवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इसके साथ ही दलाल के पास से रुपया भी बरामद कर लिया गया है.

जानकारी के अनुसार गाजीपुर के कोतवाली थाने के काशीराम आवास कॉलोनी का रहने वाला जाकिर हुसैन का 11 सितंबर को आरक्षी भर्ती परीक्षा के लिए मेडिकल परीक्षण था. लेकिन परीक्षण में उसे अनफिट बता दिया गया. इसके बाद उसे पुलिस लाइन गेट पर गाजीपुर के जमानिया थाने के जोगियामार का बृजेश सिंह यादव मिला. बृजेश ने खुद को सिपाही. उसने जाकर से कहा कि वह उसे एक लाख रुपये देगा तो वह उसे मेडिकल परीक्षण में पास करा देगा.

वाराणसी वकील- ट्रॉली चालक मर्डर केस के आरोपियों की पहचान, 25-25 हजार का इनाम

जाकिर ने बृजेश पर विश्वास करके उसे 55 हज़ार दे दिए.इसके साथ ही उसने बाकी रुपए परीक्षण में पास हो जाने के बाद देने का वादा किया. इसके बाद बृजेश ने जाकिर को यह कहकर मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया कि वह अधिकारियों से बात कर रहा है. लेकिन जाकिर को परीक्षण स्थल से से दोबारा लौटा दिया गया. जब जाकर बाहर आया तो उसे बृजेश कहीं भी नहीं मिला. इसके बाद उसने कैंट थाने में मुकदमा दर्ज कराया. केंट स्पेक्टर राकेश सिंह ने बताया कि आरोपी को पुलिस लाइन से गिरफ्तार कर लिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें