वाराणसी: सपा पूर्व विधायक के बेटे पर लंका थाने में केस दर्ज, बीवी ने कहा धोखे से की शादी

Somya Sri, Last updated: Sat, 13th Nov 2021, 1:15 PM IST
  • वाराणसी के गाजीपुर के सैदपुर से समाजवादी पार्टी से विधायक रहे राजद प्रसाद यादव के बेटे भरत भूषण यादव के खिलाफ लंका थाने में केस दर्ज किया गया है. भरत भूषण की पत्नी ने उत्पीड़न और जान से मारने की धमकी के मामले में मुकदमा दर्ज कराया है. पत्नी ने कहा कि पति ने पहली पत्नी की जीवित होने की बात छुपाकर उससे शादी कर की है.
वाराणसी: सपा पूर्व विधायक के बेटे पर लंका थाने में केस दर्ज, बीवी ने कहा धोखे से की शादी (फाइल फोटो)

वाराणसी: वाराणसी के गाजीपुर के सैदपुर से समाजवादी पार्टी से विधायक रहे राजद प्रसाद यादव के बेटे भरत भूषण यादव के खिलाफ लंका थाने में केस दर्ज किया गया है. भरत भूषण की पत्नी ने उत्पीड़न और जान से मारने की धमकी के मामले में मुकदमा दर्ज कराया है. पत्नी का कहना है कि पति ने उसे धोखे से शादी की. पत्नी ने कहा कि पति ने पहली पत्नी की जीवित होने की बात छुपाकर उससे शादी कर ली. उसने कहा कि जब उसे इस बारे में पता चला तो पति ने कहा कि मामला न्यायालय में चल रहा है.

पत्नी ने कहा कि शादी के बाद वह अपने ससुराल में मात्र 15 से 20 दिन ही रही है. जिसके बाद वे बाहर किराए पर रहने लगे. इस दौरान पति ने उसके साथ मारपीट भी की थी लेकिन लंका थाने में शिकायत करने पर उसने माफी मांग ली और ऐसी हरकत ना करने की बात कही. पत्नी ने कहा कि अब हम सिनेमा घाट के पास किराए के मकान में रहते हैं. पत्नी ने बताया कि उसे कुछ दिन पहले ही यह बात पता चली है कि उसकी पहली पत्नी जीवित है. पत्नी ने बताया कि इस पर जब उसने अपने पति से पूछा तो पति ने कहा कि जिला अधिकारी के यहां दूसरी शादी के लिए आवेदन कर दिया है. उन्होंने अनुमति दे दी है.

रहस्यमयी तरीके से बाथरूम से गायब हुई बहू! ससुर ने दी तहरीर, तलाश में जुटी पुलिस

जानकारी के मुताबिक आरती यादव साल 2013 में एक नेटवर्किंग मीटिंग के दौरान भरत भूषण से मुलाकात हुई थी. उस मुलाकात में भरत ने बताया था कि उसकी पहली पत्नी का निधन हो गया है. साल 2016 में उन दोनों ने शादी कर ली. शादी के बाद कुछ दिन आरती और भरत ससुराल में रहकर बाहर किराए पर रहने लगे. उसने बताया कि उसका पति पिछले 1 हफ्ते से गायब हो गया है. आरती ने कहा कि उसका पति उसे कई लोगों से धमकी दिलवा रहा है कि वह इस शहर को छोड़ दे. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें