वाराणसी स्वास्थ्य विभाग का लचर रवैया, 14 साल से अनफिट वाहन से लाई कोरोना वैक्सीन

Smart News Team, Last updated: Thu, 14th Jan 2021, 12:05 PM IST
  • वाराणसी के स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वैक्सीन को एयरपोर्ट से पांडेयपुर जिला अस्पताल तक लाने के लिए एक ऐसे वाहन का इस्तेमाल किया. जिसका 14 वर्ष पहले ही फिटनेस खत्म हो चुका है. वहीं पुलिस ने एयरपोर्ट से पांडेयपुर तक के पूरे रास्ते को ग्रीन कॉरिडोर बना दिया था.
वाराणसी में 14 साल से अनफिट वाहन से लाई गई कोरोना वैक्सीन

वाराणसी. वाराणसी के स्वास्थ्य विभाग ने इस बार तो इस बार हद ही कर दी. विभाग ने कोरोना की वैक्सीन को बनारस एयरपोर्ट से पांडेयपुर ड्रग हाउस तक लाने के लिए ऐसे वाहन का इस्तेमाल किया है जिसका करीब 14 साल पहले फिटनेस खत्म हो चुका है. वहीं परिवहन विभाग की वेबसाइट पर इस वाहन का मई 2006 में ही फिटनेस सम्सप्त हो चुका है. साथ ही इसका अंतिम बार रजिस्ट्रेशन 2004 में हुआ था. अच्छी बात ये है कि वैक्सीन सुरक्षित पहुच गई. आपको बता दे कि ड्राई रन के दौरान वैक्सीन को विभाग ने साइकिल से पहुचाया था.

वहीं जब इसके बारे में चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के अपर निदेशक से पूछा गया तो उन्होंने ने कहा कि वैक्सीन सुरक्षित अपने स्थान पर पहुच गई है, किसी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ा है. वाहन के फिटनेस के बारे में जानकारी लिया जाएगा. साथ ही जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा का कहना है कि अक्सर इस वाहन का इस्तेमाल अस्पतालों में समान और वैक्सीन ले जाने के लिए होता रहा है. उसके फिटनेस के बारे में कोई जानकारी नहीं थी, लेकिन उसकी जांच कराई जाएगी.

UP में खुलेंगी 28 नई प्राइवेट यूनिवर्सिटी और 51 नए कॉलेज: डिप्टी CM दिनेश शर्मा

कोरोना वैक्सीन को वाराणसी एयरपोर्ट से पांडेयपुर के जिला अस्पताल के डिवीजन ड्रग वेयर हाउस तक पहुचाने के लिए प्रशासन ने कड़ी व्यवस्था की थी. यहां तक कि पूरे रास्ते को ग्रीन कॉरिडोर में बदल दिया था. एयरपोर्ट से अस्पताल तक के ट्रेफिक को रोक दिया गया था. इतना ही नही वैक्सीन के वाहन को प्रोटेक्ट करने के लिए 6 गाड़िया लगाई गई थी. जिसमे स्वास्थ्य विभाग, एसपी, डीएम, ट्रैफिक पुलिस और पुलिस की गाड़ियां थी.

इंतजार हुआ खत्म! विस्तारा एयरलाइंस की विमान से वाराणसी पहुंची कोरोना वैक्सीन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें