वाराणसी: इंस्पेक्टर धर्मराज सिंह ने लौटाया पैसों से भरा सूटकेस, मिला सम्मान

Smart News Team, Last updated: 09/08/2020 10:57 PM IST
  • वाराणसी में चार अगस्त को पैसों से भरा सूटकेस बिहार की महिला को वापस लौटाने पर इंस्पेक्टर को किया गया सम्मानित - बिहार की महिला अपने भाई दिवाकर पांडे के साथ पिता के इलाज के लिए कबीरचौरा आई थी चौकी प्रभारी धर्मराज सिंह ने तत्परता दिखाते हुए एक लाख 96 हजार रुपए से भरा सूटकेस ढूंढा
प्रतीकात्मक तस्वीर

वाराणसी। वरिष्ठ अधीक्षक अमित पाठक ने वाराणसी में 4 अगस्त को पैसों से भरे सूटकेस को महिला को वापस लौटाने पर कबीरचौरा चौकी प्रभारी इंस्पेक्टर धर्मराज सिंह को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया.

बीते 4 अगस्त को बिहार राज्य की एक महिला अपने भाई दिवाकर पांडेय के साथ पिता के इलाज के लिए कबीरचौरा के एक निजी अस्पताल में आई हुई थी जहां पिता का इलाज चल रहा था.

पिता के हालत गंभीर होते देख डॉक्टरों ने उन्हें अपेक्स हॉस्पिटल रेफर कर दिया. इस पर आनन-फानन में महिला अपने पिता को अपेक्स हॉस्पिटल में लेकर भर्ती कराने पहुंच गई.

इस दौरान उसने अपना सूटकेस हॉस्पिटल में ही छोड़ दिया.अपेक्स हॉस्पिटल के काउंटर पर महिला पैसे जमा करने पहुँची तब उसे सूटकेस भूलने की जानकारी हुई. इस पर वह वापस हॉस्पिटल पहुंची जहां बैग गायब मिला. काफी खोजबीन करने के बाद भी जब सूटकेस नहीं मिला.तब महिला ने कबीरचौरा पुलिस चौकी पर इस बात की जानकारी दी.

सूचना मिलते ही चौकी प्रभारी धर्मराज सिंह ने तत्परता दिखाई. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उन्होंने सूटकेस को ढूंढ निकाला. सूटकेस में एक लाख 96 हजार रुपये रखे हुए थे. पुलिस ने यह पैसे सुरक्षित महिला को लौटा दिए. इस पर महिला ने चौकी प्रभारी को आशीर्वाद देते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें