वाराणसी: पानी से भरे हुए ड्रम में डूबने से डेढ़ साल के मासूम की मौत

Smart News Team, Last updated: 03/09/2020 12:36 PM IST
  • वाराणसी में पानी को संरक्षित करने के लिए भरे ड्रम में डूबने से एक डेढ़ साल के बच्चे की मौत हो गई. बच्चा घर के बाहर खेल रहा था, जहां खेलते हुए वह ड्रम के पास पहुंच गया. इस दौरान बच्चे के किसी परिजन का ध्यान उस पर नहीं रहा और यह हादसा हो गया.
बच्चे की मौत के बाद विलाप करते परिजन.

वाराणसी. मडुवाडीह थाना क्षेत्र के नैपुरवां गांव में गुरुवार की सुबह एक घर में पानी से भरे ड्रम में डूबने से डेढ़ वर्षीय मासूम की मौत हो गई. परिजनों के द्वारा उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

जानकारी के अनुसार चांदपुर गांव के नैपुरवां निवासी पिंटू पटेल का डेढ़ वर्षीय बेटा पूरब घर के बाहर खेल रहा था. इसी दौरान पूरब खेलता हुआ घर में पानी को संरक्षित कर रखे गए 10 लीटर के स्टील के ड्रम के पास में जा पहुंचा. इसी समय पूरब की मां राधा देवी किसी काम से घर के अंदर चली गई. इसके अलावा पूरब के पिता पिंटू पटेल अपने घर से कुछ दूरी पर बने घर में बैठे थे. ऐसे में पूरब अकेला खेल रहा था और परिवार के किसी सदस्य की नजर पूरब पर नहीं रही.

वाराणसी: BHU कोविड वॉर्ड से फिर लापता हुआ एक मरीज, धरने पर बैठे परिजन

करीब 15 मिनट बाद जब उसकी तलाश की गई तो वह ड्रम के अंदर सिर के बल पानी में डूबा हुआ मिला. इसके बाद परिजन तुरंत उसे चांदपुर के एक अस्पताल में ले गए. वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. लेकिन परिजनों को डॉक्टर की बात पर विश्वास नहीं हुआ इसलिए वे उसे दूसरे अस्पताल भी लेकर गए. डॉक्टरों ने वहां भी उसे मृत घोषित कर दिया.

बुनकरों के विरोध को मिला प्रियंका और अखिलेश का साथ, यूपी सरकार पर साधा निशाना

पूरब की मौत से परिजनों का रो- रो कर बुरा हाल है. पूरब की मां राधा, पिता पिंटू दादा को इस बात पर विश्वास ही नहीं हो रहा है और वे बार-बार बेहोश हो रहे हैं. पूरब को आसपास के लोग भी काफी प्यार करते थे. इसलिए उसका शव देखकर उनके भी आंसू निकल पड़े.

वाराणसी पुलिस में बड़ा एक्शन, 1 एसएचओ, 3 दारोगा लाइन हाजिर

आपको बता दें कि पूरा चार बहनों का इकलौता भाई था. लोगों ने बताया कि वह बड़ी मन्नतों के बाद पैदा हुआ था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें