चोरों पर भारी टेक्नोलॉजी, सॉफ्टवेयर की मदद से दो महीने बाद पकड़े गए शातिर चोर

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 05:18 PM IST
  • वाराणासी में पुलिस ने एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर की मदद से दो चोरों को गिरफ्तार कर लिया. इन दोनों ने जून महीने में लॉकडाउन के दौरान एक पुलिस कान्सटेबल के घर चोरी की थी. 
टेक्नोलॉजी चोरों पर भारी, सॉफ्टवेयर की मदद से 2 महीने बाद पकड़े गए 2 चोर

वाराणसी. वक्त के साथ दुनिया डिजिटल होती जा रही है तो कुछ इसका बुरा तो कई चीजों में अच्छा असर भी है. और अब तो अपराध रोकने में भी डिजिटल का पूरा सहयोग नजर आने लगा है. यूपी के वाराणासी में पुलिस ने एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर की मदद से दो चोरों को गिरफ्तार कर लिया. इन दोनों ने जून महीने में लॉकडाउन के दौरान एक पुलिस कान्सटेबल के घर चोरी की थी.

मंडुवाडीह थाना प्रभारी महेंद्र राम प्रजापति और एसएसआई राजेश त्रिपाठी ने बताया कि दोनों चोर श्याम कुरैशी और अजहरुद्दीन उर्फ कांटे की सीसीटीवी फुटेज, सर्विलांस और एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर्स के जरिए तलाश की जा रही थी.

पति ने होटल में रेड मारकर आशिक संग रंगरेलियां मनाती बीवी को रंगे हाथ पकड़ा

ऐसे पकड़े गए चोर

मंगलवार को पुलिस को एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर्स की मदद से सूचना मिली कि रिटायर कॉन्स्टेबल के घर चोरी करने वाला एक आरोपी रेडलाइट इलाके में किसी महिला से मिलने आया है. पुलिस ने मौके से आरोपी को दबोच लिया. उसकी निशानदेही पर चोरी में शामिल दूसरे चोर को भी धर लिया गया. चोरों के पास से दो मोबाइल, 1 लैपटॉप, 1 विदेशी हैंड वॉच, जियो वाई-फाई और पावरबैंक बरामद किया गया है.

VIDEO: नशे में बॉयफ्रेंड के घर डीजे लेकर पहुंची लड़की, किया दमदार डांस

मालूम हो कि एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर को आराम से स्मार्टफोन, टैबलेट और लैपटॉप में डाउनलोड कर सकते हैं. ऐसा करने से आपकी चीज चोरी के बाद वापस मिल सकती है. एंटी-थेफ्ट सॉफ्टवेयर की मदद से कंप्यूटर के जरिए आपके डिवाइस में लगे वेब केमरा के जरिए चोर को देखा जा सकता है. साथ ही जरूरी डेटा मिटाया भी जा सकता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें