रिटायर दरोगा की पत्नी से लाइलाज बीमारियों के इलाज के नाम पर ठगी, केस दर्ज

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Jul 2021, 3:56 PM IST
वाराणसी के सारनाथ में रिटायर्ड दरोगा की पत्नी के साथ ठगी का मामला सामने आया है. दरोगा की पत्नी लाइलाज बीमारियों के इलाज के नाम पर ठगी का शिकार हुई हैं.
रिटायर दरोगा के यहां इलाज के नाम पर उचक्कगिरी

वारणसी. सारनाथ के नान्हूपुर में घर के अंदर घुसकर ठगी करने का मामला सामने आया है. यहां पर रिटायर्ड दरोगा की पत्नी के साथ लाइलाज बीमारियों के इलाज के नाम पर हजारों रुपए की ठगी गई है. इस मामले को लेकर पुलिस में आज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है और पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ठगी करने वाले लोगों की तलाश में जुट गई है.

सिद्धनाथ चौबे गुजरात पुलिस से रिटायर दरोगा हैं और वह अपने परिवार के साथ नान्हूपुर में रहते हैं. यहां पर दरोगा की पत्नी आशा देवी को लाइलाज बीमारियों के इलाज के नाम पर ठगा गया है. पुलिस को दी गई तहरीर में आशा देवी ने बताया कि जब वह घर बैठीं थी तो कार से दो अज्ञात लोग उतकर उनके घर की तरफ आए और कहने लगे कि हम हरिद्वार से आएं हैं. इसके बाद उन्होंने कहा कि वह लाइलाज बीमारियों का इलाज करते हैं, इस बात को सुनते ही फिर आशा देवी ने अपनी पति के लकवा और अपनी गठिया रोग के लिए उनसे इलाज के लिए कहा.

फिर इन दोनों ने अपना खेल शुरू करते हुए आशा देवी की सोने का चेन व कान का झुमके उतारक एक कागज में रखवा लिए. इसके बाद उन्होंने उस कागज में भभूत डालकर आशा देवी को यह कहते हुए पकड़ाया कि इसे आधा घंटे बाद खोल कर गंगाजल से धोकर उस पानी को खुद और अपने पति को पिला देना सारी बीमारी खत्म हो जाएंगी. फिर क्या आधे घंटे बाद जब आशा देवी ने यह कागज खोला तो उसमें उनके गहने की जगह पत्थर था.

UP को बड़ी सौगात देने वाराणसी आ रहे PM मोदी, वर्चुअली साथ जुड़ेंगे जापान के पीएम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें