पान मसाला कारखाने से सैल्समैन ने की लाखों की चोरी, आरोपी अरेस्ट, 1.70 लाख बरामद

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Jun 2021, 3:52 PM IST
  • मंडुवाडीह थाना क्षेत्र के महेशपुर स्थित एक पान मसाला कारखाने में सोमवार को मैनेजर के कमरे में रखे 1.70 लाख रुपये गायब हो गये. जिसके बाद पीड़ित ने मंडुवाडीह थाने में इस मामले की तहरीर दी. पुलिस की जांच में पता चला कि कारखाने का सैल्समैन ही चोर था. पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट करके रुपये बरामद कर लिए है.
पान मसाला कारखाने से चोरी हुए पैसे पुलिस ने किए बरामद, आरोपी गिरफ्तार (फाइल फोटो)

वाराणसी. सोमवार को मंडुवाडीह थाना क्षेत्र के महेशपुर में स्थित एक पान मसाला कारखाने में लाखों रुपये अचानक से गायब हो गए. चोरी की आशंका में कारखाने के मैनेजर ने सोमवार रात पुलिस को मामले की तहरीर दी. जिसके बाद जांच के दौरान पता चला कि कारखाने के सैल्समैन ने ही रुपयों की चोरी की थी. पुलिस ने मंगलवार की सुबह आरोपी सैल्समैन को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही चोरी किए हुए 1.70 लाख रुपये भी बरामद कर लिए है.

थानेदार परशुराम त्रिपाठी ने बताया कि महेशपुर स्थित पान पारस नाम के एक पान मसाला कारखाने में सोमवार को मैनेजर विनोद राय के कमरे में 1 लाख 70 रुपये रखे थे. ये पैसे श्रमिकों की सैलरी देने के लिए रखे हुए थे. लेकिन अचानक से ये रकम मैनेजर के कमरे से गायब हो गई. जिसके बाद मैनेजर विनोद राय ने मंडुवाडीह थाना क्षेत्र में जाकर मामले की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने अपनी छानबीन के दौरान कारखाने में काम कर रहे लोगों की लिस्ट मंगवाई. जिसमें राहुल गुप्ता नाम का कर्मचारी कई दिनों से छुट्टी पर था और चोरी की घटना वाले दिन ही कारखाने आया था.

वाराणसी रेलवे स्टेशन पर बढ़े प्लेटफार्म टिकट के दाम, बिना टिकट प्रवेश मना

जब थाना प्रभारी ने राहुल से पूछताछ की तो उसने बताया कि सोमवार को दिन में 12 बजे वह काम पर आया था. पुलिस की जांच के दौरान ही कारखाने के सामने रहने वाले एक मकान मालिक ने बताया कि राहुल घटना के दिन सुबह दस बजे ही कारखाने आ गया था. जब पुलिस ने राहुल के बारे में छानबीन की तो पता चला कि राहुल के एक दोस्त के परिवार में कोई घटना हो गई है. इसलिए उसके कमरे की चाभी राहुल के पास है. पुलिस को इसी कमरे से चोरी किए हुए 1.70 लाख रुपये बरामद हुए. आरोपी को लहरतारा चौराहे से हिरासत में लेकर जेल भेज दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें