वाराणसी: सारनाथ में शटर व भूमि का हिलना बना कौतूहल का विषय

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 06:24 PM IST
  • सारनाथ में दुकान का शटर हिलना लोगों के लिए कौतूहल का विषय बन गया. लोग तरह तरह की बातें करने लगे. भू वैज्ञानिक प्रो. पृथ्वीश नाग ने कहा कि काफी कम परिक्षेत्र में भूमि का कंपन होने की मुख्य वजह आसपास के क्षेत्र से कोई मोटी पाइप गुजरी हो और उसके लिए मशीन चल रहा हो इसकी वजह से ही कंपन आ रहा होगा.
वाराणसी: सारनाथ में शटर व भूमि का हिलना बना कौतूहल का विषय

वाराणसी: सारनाथ थानांतर्गत सारनाथ चौराहे से दक्षिण दिशा में महज सौ मीटर दूर शाम को एक दुकान का शटर हिलना लोगों के लिए कौतूहल का विषय बन गया. लोग तरह तरह की बातें करने लगे. लेकिन किसी को भी दुकान के शटर व भूमि का हिलना समझ में नहीं आया.

गंज निवासी रिंशु यादव ने बताया कि जब मैं सुबह दुकान का शटर खोला तब से मेरे शटर के खनकने की आवाज आ रही थी. लेकिन मैं ध्यान नहीं दे रहा था. लेकिन शाम को तेज आवाज आने लगी. गंज के ही सुनील कुमार ने कहा कि जब शटर हिलने की तेज आवाज आने लगी तो मैं डर गया. लेकिन किसी को समझ में नहीं आया कि आवाज कहाँ से आ रही है. देखते ही देखते भीड़ इकट्ठा हो गई लोग तरह-तरह की बात करने लगे, अफवाहों का बाजार गर्माने लगा, कुछ लोग अंधविश्वास की भी बात करते रहें. 

बिल्डर के साथ भाई और भतीजे ने की मारपीट, पीड़ित ने थाने में दर्ज कराया मामला

विद्यापीठ के पूर्व कुलपति और भू वैज्ञानिक प्रो. पृथ्वीश नाग ने बताया है कि काफी कम परिक्षेत्र में भूमिक कांपने की मुख्य वजह आसपास के क्षेत्र से कोई मोटी पाइप गुजरी हो और उसके लिए मशीन चल रही हो जिसके कारण कंपन आ रहा होगा. इसी के साथ उन्होनें कहा कि मौके पर जाकर ही स्पष्ट होगा कि भूमि कंपन के पीछे क्या कारण है.

काशी-दिल्ली हाईस्पीड रेल कॉरिडोर पर पहले चरण का काम खराब मौसम की भेंट चढ़ गया

या फिर आसपास में कहीं खुदाई चल रही होगी इसलिए वहां कंपन हो रहा होगा. और कहा की अंधविश्वासों पर ध्यान न दें, इसकी वैज्ञानिक विधी से जांच की जायेगी तो कारण अवश्य सामने आयेगा कि इसके पीछे की सच्चाई क्या है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें