वाराणसी: पशु तस्करी के आरोप में मुख्य आरक्षी सस्पेंड, दो दरोगा के खिलाफ जांच

Smart News Team, Last updated: 01/10/2020 09:46 AM IST
  • वाराणसी एसएसपी अमित पाठक ने पशु तस्करी के मामले में रामनगर थाने के सूजाबाद चौकी के मुख्य आरक्षी को सस्पेंड कर दिया. साथ ही रामनगर इंस्पेक्टर और आदमपुर के पूर्व प्रभारी निरीक्षक के खिलाफ विभागीय जांच बैठा दी है. वहीं, दो दरोगा के खिलाफ भी विभागीय जांच बैठाई है.
वाराणसी: पशु तस्करी के आरोप में मुख्य आरक्षी सस्पेंड, दो दरोगा के खिलाफ जांच.

वाराणसी. वाराणसी एसएसपी अमित पाठक ने रामनगर थाने के सूजाबाद चौकी के मुख्य आरक्षी अयोध्या प्रसाद को पशु तस्करी के आरोप में निलंबित कर दिया है. साथ ही एसएसपी ने चौकी प्रभारी आशीष मिश्रा के खिलाफ जांच करने के निर्देश भी दिए है. 

जानकारी के मुताबिक, सूजाबाद चौकी के मुख्य आरक्षी अयोध्या प्रसाद पर पड़ाव-राजघाट के रास्ते पशु तस्करी कराने, वाहनों को पास कराने और पशु तस्करों के साथ सांठ-गांठ करने के आरोप में निलंबित किया गया है. बता दें कि एसएसपी के पास लॉकडाउन से पहले और लॉकडाउन के बाद रात में धड़ल्ले से पशु वाहन पास कराने की शिकायत मिली थी. 

वाराणसी एयरपोर्ट पर यात्रियों के लिए डीजी यात्रा की सुविधा, चेहरा ही बनेगा पहचान

एसएसपी की आरंभिक जांच में चार पुलिसकर्मियों पर निगरानी में लापरवाही करने की बात सामने आई. इस मामले में एसएसपी ने कार्रवाई करते हुए रामनगर के प्रभारी निरीक्षक नरेश कुमार सिंह और आदमपुर थाने के प्रभारी रहे सतीश कुमार सिंह, आदमपुर के चौकी प्रभारी रहे रमेश यादव के खिलाफ भी विभागीय जांच बैठा दी है. 

बनारस में 3 थप्पड़ के बदले की आग में 14 साल के बच्चे ने कुल्हाड़ी से मर्डर किया

पशु तस्करी कराने में सीधे तौर पर रामनगर थाने के सूजाबाद चौकी के मुख्य आरक्षी अयोध्या प्रसाद का नाम सामने आया था. उन्हें एसएसपी ने तत्काल निलंबित कर दिया है. एसएसपी ने बताया कि आरंभिक जांच के आधार पर मुख्य आरक्षी को निलंबित किया गया है. वहीं, बाकी पुलिसकर्मियों संलिप्तता पर विभागीय जांच के लिए निर्देश दिए गए है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें