वाराणसी एसटीएफ ने पकड़ी मुर्गी के खाने में छुपाई गई 70 लाख की खांसी की सिरप

Smart News Team, Last updated: 16/08/2020 12:47 AM IST
  • यूपी में वाराणसी के आजमगढ़ के फूलपुर से एसटीएम ने मादक पदार्थों की तस्करी पर बड़ी कार्रवाई की है.70 लाख रूपए कीमत की खासी की प्रतिबंधित सीरप की 39900 बोतल जप्त कर दो तस्करों को दबोचा
गिरफ्तार आरोपी

यूपी के वाराणसी में नशे के तस्करों पर एसटीएफ ने बड़ी कार्रवाई की.दरअसल मुर्गी के फीड में छिपाकर आगरा से तस्करी कर पश्चिम बंगाल ले जाई जा रही करीब 70 लाख रूपए कीमत की प्रतिबंधित सीरप की 39900 शिशियां जप्त की है. और दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया है.

सीओ विनोद सिंह ने बताया कि मुखबीर की सूचना पर निरीक्षक अरविन्द सिंह के नेतृत्व में एसआई राघवेन्द्र मिश्र, सिपाही अभय विक्रम सिंह की टीम ने आजमगढ़ में प्रतिबंधित फेन्साडिल सिरप से लदा एक ट्रक तस्करी कर पश्चिम बंगाल जाने वाला है. एसटीएफ टीम ने ट्रक को रोककर चेंकिग की गयी तो पाया गया कि मुर्गी के दानों (फीड) के बीचे फेन्साडिल सिरप को छिपाकर तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था. सिरप से संबंधित इनके पास कोई कागजात उपलब्ध नहीं थे.

गिरफ्तार दोनों आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि ट्रक हावड़ा के माक्यू सकरैल थाना क्षेत्र के विवेकानंद नगर कॉलोनी के जय प्रकाश पाण्डेय का है.और पाण्डेय ने ही सिरप को छिपाकर लाने के लिये भेजा था. आगरा के सिकन्दरा इण्डस्ट्रीयल एरिया से दवा की सिरप को भरकर सिलीगुडी जाना था.

रास्ते में पुलिस को शक न होने इसके लिए मुर्गी का दाना लादकर बीच में सिरप की पेटियां छिपा दी गई थी। उक्त सिरप का प्रयोग नशा के लिये किया जाता है। जिन स्थानों पर शराब प्रतिबन्धित है, वहां पर इस सिरप की तस्करी कर इसे ऊंचे दाम पर अवैध तरीके से बेचा जाता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें