वाराणसी: लंका थाना क्षेत्र में नकद रुपये और लाखों के जेवरात चोर लेकर फरार

Smart News Team, Last updated: 05/12/2020 06:04 PM IST
वाराणसी में स्थित लंका थाना क्षेत्र की महामना कॉलोनी पर पड़ने वाले एक घर से चोरों ने नकदी और लाखों के जेवरात उड़ा लिए. जिसके बाद वे फरार हो गए. इसकी जानकारी मकान मालिक के घर पहुंचने के बाद हुई. तो उन्होंने पुलिस को बताया और अब पुलिस छानबीन कर उनका पता लगा रही है.
वाराणसी के लंका थाना क्षेत्र में लाखों के जेवरात और नकद रुपये हुए चोरी

वाराणसी: शहर में गंगा नदी तट से कुछ दूरी पर स्थित लंका थाना क्षेत्र के महामना पुरी कॉलोनी में बसे एक घर से लाखों रुपये के जेवरात और नकदी चोरों हो गई है. जिस मकान में यह चोरी हुई वह कॉलोनी लेन नंबर 8 में पड़ता है. चोरी के बारे में तब पता चला जब परिवार के सदस्य गोरखपुर से शहर पहुंचे. जहां मकान मालिक को घर के भीतर प्रवेश किया ही था कि उन्हें घर का सारा सामान बिखरा हुआ दिखा. इस बात की जानकारी उन्होंने पुलिस को भी दे दी. पुलिस की जांच जारी है.

आपको बता दें कि महामना पुरी कॉलोनी पर नंबर 8 में रहने वाले आशुतोष पांडे अपने पिता के अंतिम संस्कार के लिए गोरखपुर गए हुए थे. जहां उनका घर कोहड़ा पोस्ट कोठा में पड़ता है. आशुतोष के पिता राम कुमार पांडे बैंक के पूर्व कर्मचारी रह चुके हैं. जिनकी बीती 19 नवंबर को हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई थी. 

वाराणसी: नीलांचल एक्सप्रेस की चपेट में आकर एक युवक की मौत, डेढ़ घण्टे ट्रैक जाम

पिता के अंतिम संस्कार के बाद आशुतोष वाराणसी स्थित घर पहुंचे, तो उन्होंने पाया कि काफी सामान चोरी हो गया है. जिसमें उनकी बहन के शादी के लिए पिता ने खरीदकर गहने और ढाई लाख से ज्यादा नकद रख रखा था.

हर जिले में हो कोरोना वैक्सीन कोल्ड चेन स्टोरेज, जो कहा वो करके दिखायाः CM योगी

चोरों ने इस घटना को घर के पिछले दरवाजे से दस्तक देकर अंजाम दिया. इसी क्रम में पहले चोरों ने घर में घुसते ही कमरों का ताला तोड़ा. फिर, अपने साथ कीमती सामान ले गए. यह बात पुलिस ने घर की पड़ताल कर बताई. वहीं, घटना की सूचना अशोक पांडे ने पुलिस के कंट्रोल रूम में दे थी. घटना की जानकारी मिलने पर लंका थाना इंस्पेक्टर मौके पर पहुंचे और छानबीन की.

वाराणसी: किसान आंदोलन के कारण लगे जाम में फंसे ट्रक, रोजमर्रा के सामान में कमी

UP MLC चुनावः वाराणसी में शिक्षक और स्नातक पर BJP हारी, दोनों सीटों पर सपा जीती

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें