वाराणसी: कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश सचिव बनाए गए बुनकर नेता मो. स्वालेह अंसारी

Smart News Team, Last updated: 02/02/2021 02:43 PM IST
  • वाराणसी के बुनकर नेता मो. स्वालेह अंसारी को कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग का उत्तर प्रदेश सचिव बनाया गया है. जिसके बाद से मो. स्वालेह अंसारी को बनारस के बुनकर और कांग्रेस के बड़े नेताओं ने फोन करके इस उपलब्धि की बधाई दी.
कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश सचिव बनाए गए बुनकर नेता मो. स्वालेह अंसारी

वाराणसी. वाराणसी के बजरडीहा हथकरधा कलस्टर के अध्यक्ष एवं बुनकर नेता मो स्वालेह अंसारी को कांग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक विभाग का प्रदेश सचिव बनाया गया है. वहीं इन्हे प्रदेश सचिव के पद पर प्रदेश के चेयरमैन शाहनवाज आलम ने बनाया है. वहीं शाहनवाज आलम ने अंसारी को अल्पसंख्यक विभाग का प्रदेश सचिव अल्पसंख्यक समाज के लिए किए गए कार्यो को देखते हुए किया गया है. 

वहीं कमिटी की तरफ से अंसारी को एक अनोन्यन पत्र जारी करके इसकी जानकारी दी गई. उस पत्र में कांग्रेस कमिटी की तरफ से लिखा गया है कि अंसारी से अपेक्षा की गई है कि वह यूपी में इस संगठन को और आगे ले जाएंगे. साथ ही कांग्रेस में अधिक से अधिक संख्या में अल्पसंख्यक समाज को जोड़ेंगे. वहीं लोगो को कांग्रेस में जोड़कर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी, विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन नदीम जावेद, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ पार्टी को और मजबूत बनाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

काशी में फिल्माई गई फिल्म लाल सिंह चड्ढा के रिलीज होने तक मोबाइल से दूर आमिर खान

कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग में मो. स्वालेह अंसारी को प्रदेश सचिव बनाने की सुचना जैसे ही वाराणसी पहुंची तो उसके बाद वहां पर उत्साह का माहौल छा गया. प्रदेश सचिव बनाए जाने के बाद से बनारस के बुनकरों और कांग्रेस के बड़े नेताओं के अलावा कई लोगो ने अंसारी को फोन करके इसकी बधाई दी. वहीं अंसारी बनारस के बजरडीह के रहें वाले है वहां पर उत्साह छा गया है.

बनारस रेल इंजन कारखाने ने रचा एक और इतिहास, जानें क्या

इसके अलावा बजरडीहा के बुनकरों का कहाँ है कि मो.स्वालेह अंसारी शुरू से ही अल्पसंख्यक समाज और बुनकरों के लिए काफी काम किया है. ये उनके सुख दुःख के साथी भी रहे है. साथ ही हर मुसिबद में सभकी मदद करते हुए कंधा से कंधा मिलकर उनके साथ भी खड़े रहे है. वहीं मो.स्वालेह अंसारी का कहना है कि मुझ पर जो विश्वास दिखाकर जो जिम्मेदारी दी गई है उसे बखूबी तरह से खरा उतरने का प्रयास करूंगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें