PPDCP के निजीकरण के खिलाफ बिजलकर्मियों के आंदोलन को कांग्रेस का समर्थन

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 12:23 AM IST
वाराणसी में पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के फैसले पर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बिजलीकर्मियों का आंदोलन मंगलवार को भी जारी रहा. कांग्रेस ने भी इस आंदोलन को समर्थन दिया.
वाराणसी में पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के फैसले के विरोध में चल रहे आंदोलन का कांग्रेस ने समर्थन किया.

वाराणसी. वाराणसी में सरकार के पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के निजीकरण के फैसले पर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बिजलीकर्मियों का आंदोलन मंगलवार को भी जारी रहा. आंदोलन को जिला कांग्रेस ने अपना समर्थन देते हुए कहा कि निजी कंपनियां सरकारी धन को लूटने में लगी हुई हैं. हम सरकार के इस फैसले की कड़ी निंदा करते हैं.

मंगलवार को भिखारीपुर के एमडी कार्यालय पर शाम को धरना प्रदर्शन में जिला कांग्रेस कमेटी और पं. कमलापति त्रिपाठी फाउंडेशन के पदाधिकारियों ने पहुंचकर इस आंदोलन का समर्थन किया. धरना प्रदर्शन पर आंदोलन कर रहे संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने सरकार के निजीकरण के फैसले की घोर निंदा की. उन्होंने कहा कि निजी कंपनियां आगरा, नोएडा, मुंबई, दिल्ली जैसे शहरों में सरकारी धन को लूटने में लगी हुई हैं.

पहले शादी का झांसा फिर अश्लील फोटो वायरल की धमकी देकर करता रहा रेप, गया जेल

संघर्ष समिति ने कहा कि एक दाम में बिजली खरीदकर महंगे रेट पर बेची जा रही है, इससे जनता परेशान है. निजीकरण होने पर बिजली की दरों में बढ़ोत्तरी होगी. बिजली दरों में बढ़ोत्तरी से दैनिक उपयोग की वस्तुओं के कीमत भी बढ़ेगी. जिससे आम जनता की जेब कटेगी. समिति ने शासन से इस फैसले पर पुनर्विचार करने की अपील की है. 

वाराणसी: कमरे में संदिग्ध हालत में मिला कैंसर अस्पताल की नर्स का शव, सनसनी

सरकार के इस फैसले पर कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे ने कहा कि एक तरफ जहां देश आर्थिक संकट से जूझ रहा है, वहीं दूसरी तरफ सरकार निजीकरण का रास्ता अपनाकर जनता के साथ ही पढ़े-लिखे बेरोजगार बच्चों के भविष्य के साथ भी खिलवाड़ कर रही है. इस मौके पर प्रजानाथ शर्मा, महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे और जिले के कई सदस्य मौजूद रहे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें