वाराणसी में दिवाली पर हर्ष फायरिंग में एक युवक की मौत, पिता का दोस्तों पर हत्या का आरोप

ABHINAV AZAD, Last updated: Fri, 5th Nov 2021, 11:02 AM IST
  • वाराणसी में दिवाली पर हर्ष फायरिंग में एक युवक की जान चली गई. गोली लगने के बाद युवको आनन-फानन में बीएचयू स्थित ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.
(प्रतीकात्मक फोटो)

वाराणसी. दिवाली पर हर्ष फायरिंग में एक युवक की जान चली गई. बताया जा रहा है कि वाराणसी में पांच शराब के नशे में धुत होकर दिवाली पर पिस्टल से हर्ष फायरिंग कर रहे थे. इस बीच पिस्टल से चली गोली एक दोस्त को लग गई. गोली लगने के बाद युवको आनन-फानन में बीएचयू स्थित ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

इस घटना के बाद सिगरा पुलिस ने दो दोस्तों को हिरासत में लिया है. साथ ही पिस्टल भी बरामद किया है. वहीं मृतक के पिता ने चार दोस्तों पर लूट, हत्या का मुकदमा दर्ज कराया. शव को पुलिस ने मोर्चरी में रखवाया है. बताया जा रहा है कि पिशाचमोचन कॉलोनी निवासी गोपाल श्रीवास्तव का पुत्र चंदन श्रीवास्तव उर्फ अमन (28 वर्ष) दिवाली पर गुरुवार रात अपने दोस्त देवेश, सचिन, जीतू और सतीश पाल के साथ शराब पी थी. इसके बाद पांचों देर रात कामायनी नगर कॉलोनी पार्क में अपने-अपने अवैध पिस्टल से फायरिंग करने लगे. इसी बीच निकली एक गोली चंदन के गर्दन को आरपार कर गई.

दिवाली पर मजदूरों के परिवार में मातम, पिकअप वैन पलटी, 4 महिलाओं की मौत, बच्चों समेत 30 घायल

इस वारदात की सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची. पुलिस ने घायल युवक को बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया. लेकिन डॉक्टरों की टीम ने युवक को मृत घोषित कर दिया. मृतक चंदन के पिता ने दोस्त देवेश, सचिन, जीतू और सतीश पाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है. पिता का आरोप है कि सभी ने बेटे संग मारपीट की औऱ लूट के बाद सचिन ने गोली मारकर हत्या कर दी. इंस्पेक्टर सिगरा अनूप कुमार शुक्ला के मुताबिक, दोस्तों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. तफ्तीश में सामने आया कि आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने के आरोप में चंदन और उसके दोस्त पहले भी जेल जा चुका है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें