IIT BHU में पहले चरण के प्लेसमेंट में 30 मल्टीनेशनल कंपनियों ने लिया इंटरव्यू

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 04:50 PM IST
  • इन मल्टीनेशनल कंपनियों के इंटरव्यू के दौरान संस्थान के ही कुछ छात्र व अधिकारी आइआइटी-बीएचयू के प्लेसमेंट की पूरी कमान संभाल रहे हैं.
फाइल फोटो

वाराणसी. आइआइटी-बीएचयू में कैंपस प्लेसमेंट के तहत पहले चरण में अमेज़न, माइक्रोसॉफ्ट और उबर व जगुआर सहित तीस मल्टीनेशनल कंपनियों ने छात्रों को शानदार मौका दिया है. बीते दो दिन में कुल 217 छात्रों का फाइनल चयन और 179 को प्री प्लेसमेंट आफर मिला, जिसमें न्यूनतम पैकेज इस साल का 11,50,000 रुपये और अधिकतम पैकेज चौसठ लाख प्रति वर्ष से अधिक रहा. कंपनियों द्वारा लिए जा रहे इंटरव्यू में कुल 1365 छात्रों ने भाग लिया था. अब दूसरे चरण के लिए भी कार्य बुधवार रात से ही शुरू कर दिया गया है.

पहले चरण में माइक्रोसॉफ्ट, बजाज, अलफोंसो, टेक्सास, जैगुआर,एप्पल, इंस्टाबेस, उबर, अमेज़न, सीमेंस हेल्दिनियर्स, एक्सेल,रूपीक, सिग्नलचिप, फ्लिपकार्ट, पोस्टमैन, एसआरएफ, जियो मैनेजर, डिलोट, ओयो, फिसर्व, जंगली गेम्स, आईसीआईसीआई, एक्सट्रिया सहित तीस से भी ज़्यादा कंपनियां इंटव्यू ले रहीं हैं.

अब गंगा घाटों पर मनौती और सैर सपाटा के लिए जुटने लगे नव दंपति

इन कंपनियों में उबर ने 35 लाख, गूगल ने 31 लाख का आकर्षक आफर दिया, जबकि माइक्रोसाफ्ट ने सबसे ज्यादा 26 छात्रों का चयन नौकरी के लिए व 16 को इंटर्नशिप के लिए मौका दिया है. वहीं गूगल ने कुल आठ को जाब व आठ को इंटर्नशिप का मौका दिया है. वहीं इन मल्टीनेशनल कंपनियों के इंटरव्यू के दौरान संस्थान के ही कुछ छात्र व अधिकारी आइआइटी-बीएचयू के प्लेसमेंट की पूरी कमान संभाल रहे हैं.

ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेल के प्रमुख के मार्गदर्शन में बीटेक के ये छात्र एक बड़े हाल में चौबीसों घंटे कंप्यूटर पर प्लेसमेंट की प्रक्रिया को बड़ी साफगोई के साथ अंजाम दे रहे हैं. देखा जाए तो बड़ी कंपनियां ही संस्थान के बड़े खर्चे पर इस तरह के कार्य करने की जिम्मेदारी निभा पाती हैं. इस वजह से काफी हद तक इन छात्रों को इस आनलाइन प्लेसमेंट को सफलतापूर्वक पूरा कराने का श्रेय जाता है. प्लेसमेंट की कंट्रोलिंग कर रहे छात्रों के अनुसार वे दिन रात इसी आनलाइन प्लेसमेंट के कार्य में जुटे हैं. इन छात्रों को नाश्ता से लेकर भोजन तक हास्टल में ही दिया जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें