कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम सीआरपीएफ करेगा हर संभव मदद- नरेंद्र पाल

Smart News Team, Last updated: 05/08/2020 12:48 AM IST
  • वाराणसी.कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सीआरपीएफ के 95वें बटालियन के कमाण्डेन्ट ने विभागीय अधिकारियों एवं जवानों के साथ बैठक की। इसमें कोरोना वायरस के रोकथाम हेतु सीआरपीएफ के कार्यों की चर्चा की गई।
कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम हेतु विगत दिनों से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के द्वारा चलाए जा रहा अभियान

वाराणसी। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम हेतु विगत दिनों से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के द्वारा चलाए जा रहा अभियान मंगलवार को भी जारी रहा। जिसमें क्षेत्र के दर्जन भर जगहों पर सोडियम हाइपोक्लोराइट रसायन का छिड़काव कराने के अलावा भोजन वितरण एवं थर्मल स्कैनिंग किया गया। इसके अलावा लोगों को सोशल डिस्टेनसिंग बनाये रखने के साथ मास्क पहन कर बाहर निकले की सलाह दी गयी। वहीं सीआरपीएफ के 95वें बटालियन के कमाण्डेन्ट नरेन्द्र पाल सिंह ने विभागीय अधिकारियों एवं जवानों को ब्रीफिंग करते हुए कोविड-19 के प्रति खुद को सचेत रखने और दूसरों को भी जागरूक करने की सलाह दी।

सीआरपीएफ के 95वें बटालियन द्वारा कोरोना वायरस के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के क्रम में वाहिनी के द्वितीय कमान अधिकारी सुरेश कुमार मिश्रा के नेतृत्व में भुतही, इमली, भोजूबीर, लक्सा, सारनाथ, आशापुर व लालपुर सहित आसपास के अन्य इलाकों को सोडियम हाइपोक्लोराइट रसायन का छिड़काव कर विसंक्रमित किया गया।

इसके पूर्व अधिकारियों एवं जवानों के साथ एक बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरोना वायरस की वजह से लोगों के जीवन में बदलाव आया है। जब तक इसका प्रमाणिक निदान खोज नहीं लिया जाता, एहतियात के सारे कदम उठाया जाने चाहिएँ। बगैर मास्क सार्वजनिक स्थानों पर विचरण करने से दूसरे लोगों को भी खतरा है। अतः दूसरों को सजग और सावधान करते हुए खुद को भी जागरूक रखना है। अनुशासन, स्व-नियंत्रण, संयम तथा सामाजिक सहयोग से हम लोग कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई जीत सकते हैं।

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के सेवारत कार्मिकों की पत्नियों के संगठन 'कावा' सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा असोसिएशन की पदेन अध्यक्षा रंजीता सिंह के नेतृत्व में वाराणसी शहर की स्वयंसेवी संस्थाओं तथा समाजसेवियों की मदद से राशन संग्रहण का कार्य किया जा रहा है। जिससे पैक कर आवश्यकता के अनुरूप जरूरतमंदों में वितरित किया जा रहा है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें