किसानों को रियायती दर पर देगा प्रमाणिक बीज उद्यान विभाग

Smart News Team, Last updated: 08/10/2020 09:09 PM IST
  • जनपद भर के हॉर्टिकल्चर विभाग से जुड़े किसानों को उद्यान विभाग रियायती दर पर उन्नतशील प्रमाणित बीज उपलब्ध कराएगा. विभाग की ओर से सर्दी के मौसम में पैदावार की जाने वाली आलू समेत अन्य फसलों के बीजों को किसानों तक मुहैया कराने के लिए ब्लूप्रिंट तैयार कर लिया गया है.
जिला उद्यान विभाग की ओर से जिले भर के आलू किसानों को नकद मूल्य पर उन्नत किस्म के बीज मुहैया कराए जाएंगे.

वाराणसी. जिला उद्यान विभाग की ओर से तैयार किए गए ब्लूप्रिंट की रिपोर्ट को माने तो इस बार जिले भर के आलू किसानों को नकद मूल्य पर उन्नत किस्म के बीज मुहैया कराए जाएंगे. फसली वर्ष 2020-21 मैं आलू की प्रजातियों में सबसे उन्नत प्रजाति कुफरी सिंदूरी और कुफरी ख्याति प्रजाति के बीज किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे.

शासन की ओर से जिला उद्यान विभाग को आलू की खेती करने वाले किसानों को रियायती दर पर एक कुंतल आलू बीज वितरित करने की मंजूरी दी गई है. इसके अलावा शासन ने हॉर्टिकल्चर विभाग से जुड़ी अन्य साग भाजी की फसलों के लिए भी उन्नत किस्म के प्रमाणित बीज किसानों में नगद मूल्य पर उपलब्ध कराने की संतुष्टि प्रदान की है. इसमें जिले भर के मटर किसानों को 100 प्रति किलो मटर, 155 किलो धनिया, 135 किलो राजमा, 325 किलो मूली, 155 किलो मेथी आदि के बीच रियायती दर पर आवंटित किए जाएंगे.

खुशखबरी! 10 अक्टूबर से वाराणसी-दिल्ली के बीच उड़ेंगी चार फ्लाइट, सुबह भरेंगी उड़ान

जिला उद्यान विभाग की माने तो जिले भर के बीज वितरण केंद्रों पर आगामी 15 अक्टूबर से नकद मूल पर उक्त प्रजातियों के प्रमाणित बीज आवंटित करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

इस संबंध में जिला उद्यान अधिकारी ने बताया कि इस बार शासन से आलू किसानों के लिए एक कुंतल आलू बीज उपलब्ध कराए गए हैं. इनमें समान रूप से कुफरी सिंदूरी 50 किलो तथा कुफरी ख्याति के 50 किलो प्रमाणित आलू बीज 3150 रुपए प्रति कुंतल की रियायती दर पर किसानों को उपलब्ध कराया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें