जल्दी अब जूनियर स्कूलों को खोलने की तैयारी में शासन

Smart News Team, Last updated: Tue, 27th Oct 2020, 2:08 PM IST
  • शासन द्वारा शिक्षा अधिकारियों से वर्तमान में संचालित कक्षाओं के लिए बच्चों की उपस्थिति व अभिभावकों से फीडबैक माँगा जा रहा है.
नवंबर में खुल सकती है कक्षा 6 से 8 तक की कक्षाएं

वारणसी . शासन ने कॉलेजों में कक्षा नौ से बारह तक की कक्षाएं लगाने का आदेश कुछ शर्तों के साथ दिया है वहीं अब नवम्बर से जूनियर यानी कक्षा छह से आठ तक की कक्षाओं को भी खोलने की अनुमति मिल सकती है. बताया जा रहा है कि नवम्बर तक छह से आठ कक्षाओं को शुरू किया जा सकता है.

कोरोना महामारी के दौरान जहाँ उद्योग धंधों पर सबसे ज़्यादा असर पड़ा है वहीं इसके अलावा देश के विकास में सबसे अहम रोल अदा करने वाली शिक्षा व्यवस्था भी बुरी तरह प्रभावित हो गयी है. हालांकि इस दौरान सरकारी व प्राइवेट स्कूलों द्वारा ऑनलाइन क्लास के जरिये बच्चों तक शिक्षण कार्य पहुंचाने की कोशिश बराबर जारी है पर ग्रामीण व निर्धन बच्चों के मामले में नतीजा शून्य ही आया. 

वाराणसी: हड़ताल पर बैठे बुनकरों को मिला कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का साथ

इसको लेकर कुछ दिन पहले ही कक्षा नौ से बारह शुरू करने के सरकारी आदेश हुआ. जिसके अनुसार अभी स्कूलों को तमाम एहतियात बरतनी पड़ रही है जिसमें बच्चों के अभिवावकों की सहमति के बाद ही बच्चों को स्कूल बुलाया जा सकता है.

वहीं स्कूलों में कोरोना से बचाव के सभी उपाय कर लेने के बाद पहले चरण में केवल पचास फीसदी विद्यार्थियों को ही क्लास में बैठने की अनुमति दी गयी है. इसके अलावा इन स्कूलों में संचालित क्लासों में विद्यार्थियों की उपस्थिति व अन्य डेटा व फीड बैक शिक्षा अधिकारियों के जरिये मांगा गया है. इसके अलावा जिले के शिक्षाधिकारियों से हुई वार्ता के मुताबिक जूनियर हाईस्कूल स्तर के बच्चों के अभिवावकों से भी फीडबैक लेने के निर्देश आये हैं. बताया जा रहा है कि संभावित रूप से जूनियर विद्यालयों को खोलने की भी तैयारी चल रही है और जल्द सरकार सभी पहलुओं पर गौर कर इसके लिए भी दिशा निर्देश जारी कर सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें