MP के इस मंदिर में सजता है हनुमान जी का दरबार, होती है जन सुनवाई

Anuradha Raj, Last updated: Tue, 31st Aug 2021, 11:20 PM IST
  • मंगलवार का दिन बजरंग बली को समर्पित होता है. ऐसे में इस दिन जो भी विदि-विधान से पूजा अर्चना करता है, और व्रत रखता है. बजरंगबली उसकी सभी मनोकामना को पूर्ण करते हैं, साथ ही अपी विशेष कृपा बनाए रखते हैं.
बजरंगबली की पूजा

किसी भी प्रदेश या जिले में अगर कोई समस्या आ पड़े तो प्रशासनिक अधिकारी, जनप्रीतिनिधि पीड़ित की समस्या को सुलझाने के लिए जनसुनवाई हर हफ्ते करते हैं. लेकिन ये आप पहली बार सुनने जा रहे हैं कि भगवान भी सुनवाई करते हैं. इतना ही नहीं बल्कि यहां भक्त अपनी समस्या को लिखित रूप में देते हैं. आपको बता दें छिदवाड़ा में महावली हनुमान का दरबार मंगलवार और शनिवार को लगता है. केसरी नंदन हनुमान जी को भक्त अपनी सारी समस्याएं बताते हैं. यहां जो मंदिर है उसके बारे में कहा जाता है कि अयोद्धा के बाद यही मंदिर है जो जहां पूर्व मुखी हनुमान हैं. 

इस मंदिर में भक्तगण अपनी समस्या को लेकर आते हैं. ये भी कहा जाता है कि जिनकी शादी विवाह में अड़चन रहा हो, जमीनी विवाद हो या फिर ट्रांसफर रुका हुआ हो सभी अपनी परेशानी लेकर छिंदवाड़ा के केसरी मंदरि पहुंचते हैं. जहां हर मंगलवार और शनिवार को पवन पुत्र हनुमान के द्वारा सुनवाई की जाती है. इस मंदिर के दरवाजे पर एक रजिस्टर रखा होता है, जिसके शुरू में आपको जय श्री राम लिखना होता है, उसके बाद उसमें आपके आने जाने के समय को मेंशन करना होता है. 

KBC 13 की पहली करोड़पति बनीं UP की हिमानी बुंदेला, दिव्यांग होने के कारण लगती थीं सबको बोझ

मंदिर समिति उसके पश्चात आवेदन देती है. जिसमें परेशानी से जूझ रहे लोग अपनी परेशानी लिखते हैं, और उसे फोल्ड करके उसके ऊपर सिंदूर से जय श्री राम लिखते हैं, और भगवान हनुमान के सामने रख आवेदन करते हैं. ये भी कहा जाता है कि जो भी समस्याएं इन पर लिखी होती है वो बिलकुल गुप्त होती है. ना तो कोई इसे देख सकता है, और ना ही पढ़ सकता है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें