वाराणसी:आईआईटी बीएचयू में ड्राइंग शीट का मूल्यांकन नहीं करेगा नॉन टीचिंग स्टाफ

Smart News Team, Last updated: Sat, 19th Dec 2020, 8:31 PM IST
  • 'इंजीनियरिंग ड्राइंग' विषय के सेशनल एग्जाम का मूल्यांकन हर साल प्रोफेसर द्वारा किया जाता है.ड्राइंग विषय का महत्व इतना ज्यादा है कि इसे इंजीनियरिंग की भाषा कहा जाता है.
फाइल फोटो

वाराणसी. आईआईटी बीएचयू में बीटेक छात्रों द्वारा के इंजीनियरिंग ड्राइंग विषय के सेक्शनल परीक्षा के दौरान बनाई जाने वाली ड्राइंग शीट के मूल्यांकन के लिए नान टीचिंग स्टाफ को शामिल किये जाने की बात आईआईटी प्रशासन द्वारा नकार दी गयी.खबरों के अनुसार इस अवसर पर जब प्रोफेसर नहीं बल्कि गैर शिक्षकों का दल इस तरह के मूल्यांकन का काम करने वाला था, और मेकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग से इस बाबत मेल के जरिये कुछ गैर शिक्षक सदस्यों के नाम भी सुझाये गए.लेकिन छात्रों के विरोध व उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ का मामला सामने आते ही शुक्रवार शाम तक आईआईटी प्रशासन ने इसको नकार दिया.

बता दें कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग से बीटेक कर रहे फर्स्ट ईयर छात्रों के कोर्स में शामिल 'इंजीनियरिंग ड्राइंग' विषय के सेशनल एग्जाम का मूल्यांकन हर साल प्रोफेसर द्वारा किया जाता है.ड्राइंग विषय का महत्व इतना ज्यादा है कि इसे इंजीनियरिंग की भाषा कहा जाता है.किसी भी भवन के निर्माण में सबसे पहली जरूरत ड्राइंग की ही होती है.चार दिसंबर को मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा जारी एक मेल में सात नॉन टीचिंग सदस्यों के नाम सुझाये गए थे.

मनरेगा मजदूर यूनियन ने खोला सिलाई केंद्र, कहा- लड़कियां बनेंगी आत्मनिर्भर

मेल में ज़िक्र था कि हर सप्ताह में तीन बार ये स्टाफ ड्राइंग सेक्शन का दौरा करेंगे। वे इस साल बीटेक छात्रों द्वारा आनलाइन जमा किए गए ड्राइंग शीट को ये स्टाफ गूगल क्लासरुम के तहत शीट का मूल्यांकन करेंगे.एक दूसरा मेल 18 दिसंबर को मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग की ओर से किया गया था जिसमें इन नान टीचिंग स्टाफ से रिजल्ट पर मार्क भरवाने की बात कही गई है.इसमें यह भी कहा गया है कि ये सदस्य ड्राइंग पेपर का प्रत्यक्ष रूप से मूल्यांकन नहीं करेंगे.डीन आफ एकेडमिक अफेयर्स प्रो. एसबी द्विवेदी ने कहा कि विभागों में ड्राइंग शीट का मूल्यांकन होना है.नॉन टीचिंग स्टाफ द्वारा जाँच कराने की बात अपवाह और निराधार बताते हुए उन्होंने कहा कि वहीं हमारे यहां हमेशा प्रोफेसरों के द्वारा ही किया जाता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें