एकीकृत एयर कार्गो टर्मिनल हुआ शुरू,सब्जियों का रहेगा स्टोरेज

Smart News Team, Last updated: 10/12/2020 06:11 PM IST
  • कोल्ड चैंबर बन जाने से हरी सब्जियों, फूलों और फलों को बिना खराब हुए विदेश भेजा जा सकेगा वहीं अब एपीडा तथा अन्य विभागों से बात कर कार्गो कारोबार बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा.
फाइल फोटो

वाराणसी. वाराणसी व आसपास क्षेत्रों के किसानों के लिए खुश कर देने वाली ख़बर यह है कि अब किसानों को हरि सब्जी, फल व फूल के निर्यात से पूर्व संरक्षण हेतु बहुत सहूलियत मिलने लगेगी. बुधवार को एलबीएस इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर स्थित एकीकृत एयर कार्गो टर्मिनल में पांच टन क्षमता के कोल्ड चैंबर का उद्घाटन कर दिया गया है. कोल्ड चैंबर बन जाने से हरी सब्जियों, फूलों और फलों को बिना खराब हुए विदेश भेजा जा सकेगा वहीं अब एपीडा तथा अन्य विभागों से बात कर कार्गो कारोबार बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा. एपीडा के सहयोग से सब्जियों और फलों को मंडी से न खरीदकर सीधे किसानों के खेतों से ही लिया जाएगा. इससे किसानों को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा. खेती किसानी के दौरान किसानों को यदि कोई समस्या होगी तो उसका प्रशिक्षण भी दिया जाएगा.

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के उत्तरी क्षेत्र के क्षेत्रीय कार्यपालक निदेशक डीके कामरा कोल्ड चैंबर के उद्घाटन कार्यक्रम में पहुंचे. उन्होंने बताया कि कोल्ड चैंबर का निर्माण हो जाने से अब वाराणसी ही नहीं पूर्वांचल के अन्य जनपदों में उपजाई जा रही हरी सब्जियां जैसे मटर, मिर्च, भिंडी, बैगन व करेला, आम आदि फूलों और फलों को देश ही नहीं विदेशों तक निर्यात किया जाएगा. इससे किसानों की आय में वृद्धि होगी और खेती किसानी से लोगों को प्रत्यक्ष तौर पर फायदा पहुंचेगा.

हादसे से गंभीर हुआ प्रशासन,नाव पर खड़े होकर सेल्फी लेने से रोक नियम हुए सख्त

इस दौरान एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप माथुर ने कहा कि अभी पांच टन क्षमता का कोल्ड चैंबर बनाया गया है. आवश्यकता पडऩे पर इसकी क्षमता और बढ़ाई जाएगी. इस दौरान विदेशों में निर्यात करने के दौरान कोई किट या सब्जियों में फैलने वाले रोग विदेश में न चले जाएं इसकी भी जांच होगी. यदि किसी किसान की फसल में कीट या कोई ऐसा रोग पाया जाता है तो उनकी फसल अस्वीकृत कर दी जाएगी. इसके बाद संबंधित किसान को फसल सुरक्षा के बारे में बताने व समझाने के लिए अधिकारी उनके खेतों तक पहुंचेंगे. वे समझाएंगे कि किसान किन-किन चीजों का प्रयोग कर सकते हैं. कार्यक्रम के दौरान कस्टम के सहायक आयुक्त पवन कुमार सिंह, सीआइएसएफ के कमांडेंट अजय कुमार व कार्गो के सहायक महाप्रबंधक काशीनाथ यादव आदि मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें