Health benefits of Bhang : शिवरात्रि में भांग का है विशेष महत्व, जानें इसे बेमिसाल फायदे

Pallawi Kumari, Last updated: Mon, 28th Feb 2022, 4:00 PM IST
  • भांग शिवजी का प्रिय भोग माना जाता है. भोलेनाथ की पूजा में शिवलिंग पर भांग जरूर अर्पित करते हैं. सिर्फ पूजा के लिहाज से नहीं बल्कि भांग शरीर के लिए भी फायदेमंद होता है. लेकिन इसका सेवन करने से पहले ये जरूर जान लेना चाहिए कि इसे कब और कितना लेना सही होता है.
भांग के फायदे (फोटो-लाइव हिन्दुस्तान)

मंगलवार 1 मार्च 2022 को महाशिवरात्रि का त्योहार देशभर में धूमधाम से मनाया जाता है. इसे हिंदू धर्म और शिवजी का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है. महाशिवरात्रि को लेकर शिवभक्तों के बीच भक्ति और भरपूर उल्लास देखने को मिलता है. महाशिवरात्रि के पूरे दिन चारों पहर शिवजी की पूजा अराधना की जाती है. शिवजी की प्रिय चीजें पूजा में अर्पित की जाती है. खास बात यह है कि शिवजी प्राकृतिक चीजें काफी प्रिय होती हैं. उन्हें भांग, धतूरा, बेलपत्र जैसी चीजें अत्यंत प्रिय होती है. इस दिन भांग चढ़ाने के साथ साथ कई लोग भांग वाली ठंडाई भी पीते हैं. 

लेकिन कई लोगों को ऐसा लगता है भांग एक नशीली चीज है इसलिए इसका सेवन सेहत के लिए नुकसादेह होता है. आपको बता दें कि भांग सिर्फ शिवजी को भोग के रूप चढ़ाने नहीं बल्कि सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है. इसके कई फायदे हैं. आइये जानते हैं महा शिवरात्रि पर भांग का क्या है विशेष महत्व और शरीर के लिए इसके बेमिसाल फायदे.

Viral Video: दूल्हे के दोस्तों ने दिया ऐसा गिफ्ट, देखकर दुल्हन नहीं रोक पाई हंसी

शिवरात्रि पर क्या है भांग का विशेष महत्व-शिव महापुराण के मुताबिक, अमृत पाने के लिए देवताओं और असुरों ने समुद्र का मंथन किया था. इसमें कई सारी चीजें निकली थीं जो देवताओं और असुरों के बीच में बांटी गईं. लेकिन जब समुद्र मंथन के दौरान जब हलाहल यानी विष निकला तो पूरी सृष्टि को बचाने के लिए देवताओं के कहने पर भगवान शिव ने उसे पी लिया, जिससे उनका कंठ नीला पड़ गया था और ये विष शिवजी के मस्तिष्क तक चढ़ने लगा. फिर वो व्याकुल होने लगे और अचेत हो गए.

 तब मां आदिशक्ति प्रकट हुईं और भोलेनाथ को बचाने के लिए भांग, धतूरा, बेल आदि जड़ी-बूटियों से बनी औषधियों से शिव को ठीक की. शिव के मस्तिष्त पर भांग, धतूरा और बेल पत्र रखा गया और जलाभिषेक किया गया. इससे धीरे-धीरे शिव के मस्तिष्क का ताप कम हो गया और उनकी व्याकुलता दूर हो गई. तब से भोलेनाथ को पूजा में भांग का भोग अर्पित किया जाने लगा.

सेहत के लिए कैसे फायदेमंद है भांग- इस पौराणिक कथा के अनुसार लोगों का मानना है कि शिवजी तो भांग का सेवन नहीं करते थे बल्कि भांग उनके मस्तिष्क को ठंडा रखता था. इसलिए उन्हें भांग चढ़ाई जाती है. लेकिन भांग एक आयुर्वेदिक औषधी है. सीमित मात्रा में इसके सेवन से कई तरह की बीमारियों को दूर किया जा सकता है.

आइये जानते हैं इसके फायदे के बारे में-

1. भांग को यदि सही और सीमित मात्रा में लिया जाए तो यह एकाग्रता बढ़ाने का काम भी करती है.

2. कई तरह की मानसिक बीमारियों के इलाज में भांग का उपयोग दवाओं के रूप में किया जाता है.

3. शारीरिक दर्द कम करने में मदद करता है भांग.

4.यादाश्त बढ़ाने में मददगार साबित होती है भांग.

(नोट- भांग का सेवन औषधीय रूप में करने से पहले किसी अच्छे वैद्य या चिकित्सक की सलाह जरूर लें. इसका अत्यधिक उपयोग जानलेवा भी हो सकता है और अगर आप इसे नियमित लेते हैं तो आप 'कैनाबिस यूज डिसऑर्डर' का शिकार भी हो सकते हैं. )

1 से 7 मार्च तक अगले एक हफ्ते पड़ेंगे ये व्रत-त्योहार, पहले से कर लें तैयारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें