वाराणसी के सर सुंदरलाल अस्पताल में बढ़ेगा ऑक्सीजन का भंडार

Smart News Team, Last updated: 18/10/2020 08:47 PM IST
  • निर्माणाधीन मदर एवं चाइल्ड केयर यूनिट के कार्य करने के बाद लाइफ सपोर्ट ऑक्सीजन की मांग वृद्धि को देखते हुए बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ने सर सुंदरलाल अस्पताल में ऑक्सीजन की 3 गुना छमता में वृद्धि करने का निर्णय लिया है. इसके लिए अस्पताल प्रशासन की ओर से युद्ध स्तर कार्य पूरा कराया जा रहा है.
सर सुंदरलाल अस्पताल में ऑक्सीजन भंडारण क्षमता को 3 गुना यानी 30 किलो लीटर तक बढ़ाने का कार्य शुरू कर दिया है.

वाराणसी. वाराणसी बताते चलें कि मौजूदा समय में बीएचयू के सर सुंदरलाल अस्पताल की 10 किलो लीटर ऑक्सीजन भंडारण की क्षमता है. जल्द ही अस्पताल में अंतिम चरण में निर्माणाधीन मदर एवं चाइल्ड केयर यूनिट की भी शुरुआत होनी है. ऐसे में अस्पताल प्रशासन की ओर से ऑक्सीजन भंडारण क्षमता को और अधिक विकसित करने की योजना बनाई गई है. इसके तहत अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन भंडारण क्षमता को 3 गुना यानी 30 किलो लीटर तक बढ़ाने की दिशा में तेजी से कार्य शुरू कर दिया है.

अस्पताल प्रशासन की मानें तो 20 किलो लीटर ऑक्सीजन भंडारण का एक सिलेंडर अस्पताल परिसर में आने वाले कुछ दिनों में कार्य करना शुरू हो जाएगा. लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर के अस्पताल में कार्य करने से न केवल अस्पताल प्रशासन की बहुप्रतीक्षित समस्या का निदान होगा बल्कि अस्पताल में आने वाले गंभीर रोगियों को भी समय पर ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित होगी.

वाराणसी: फ्लैट रेट पर बिजली की मांग को लेकर बुनकरोंं ने निकाली बाइक रैली

इस संबंध में सर सुंदरलाल अस्पताल के अधीक्षक प्रोफेसर एस के माथुर ने बताया कि वर्तमान में अस्पताल में 10 किलो लीटर का लिक्वेड मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर से ही काम चलाया जा रहा है. 30 किलो लीटर तक अस्पताल की ऑक्सीजन भंडारण क्षमता बढ़ाए जाने को लेकर तेजी से कार्य पूरा कराया जा रहा है. जल्द ही यहां आने वाले रोगियों को इसकी सुविधा उपलब्ध होगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें