वाराणसी: लॉकडाउन में घर बैठाया, सोशल मीडिया ने व्यापार चमकाया

Smart News Team, Last updated: 18/10/2020 09:21 PM IST
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विचारों से प्रेरित होकर कोरोना संकट काल में देशभर में लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान जहां देश की एक बड़ी संख्या की आबादी घरों में रह गई थी वही कुछ ऐसे जुझारू व्यक्तित्व सामने आए हैं जिन्होंने तकनीकी और सोशल मीडिया के माध्यम से अपने व्यापार को नई दिशा प्रदान की.
सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों ने अपना व्यापार चमकाया

वाराणसी: वाराणसी इसकी बानगी महानगर के दुर्गाकुंड स्थित नारायण सर्राफ एंड संस मैं देखने को मिलती है. अन्य देशवासियों की तरह नारायण सर्राफ एंड संस के निदेशक अमित अग्रवाल व उनके सभी भाई व फर्म के कर्मचारी भी अपने अपने घरों में दुबक गए. लॉकडाउन का दौर लंबा खिंचता देख अपने भाइयों के सहयोग से फर्म को चलाने वाले अमित अग्रवाल का मन विचलित हो गया.

इसी दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकट को अवसर में बदलने के जनसंदेश से प्रेरित होकर अमित ने अपने व्यापार को जारी रखने के लिए तकनीकी के साथी सोशल मीडिया का सहारा लेने का निर्णय लिया. शुरुआती दौर में आशा और निराशा के बीच उनका ज्वेलरी का व्यापार झूलता रहा. इसी बीच भगवान परशुराम जयंती यानी अक्षय तृतीया को स्वर्ण खरीदने की पुरानी मान्यता के चलते अमित के ऑनलाइन व्यापार ने अच्छे संकेत दिए. सिल्वर एवं गोल्ड सेल का ऐप और सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम व अन्य पब्लिक से जुड़े एप्स के माध्यम से आज उनका ऑनलाइन व्यापार सफलता के नए आयाम बनाता जा रहा है.

कॉलेज में अब शिक्षण कक्षों के अलावा मेडिकल कक्ष भी ज़रूरी

ऑनलाइन व्यापार की सफलता से लवरेज नारायण सर्राफ एंड संस के निदेशक अमित अग्रवाल बताते हैं कि शुरुआती दौर में ऑनलाइन सोने चांदी के गहनों की बिक्री का तरीका असफल होते दिखाई दिया किंतु बाद में तकनीकी के बेहतर इस्तेमाल और सोशल मीडिया के माध्यम से उनसे ग्राहक जुड़ते गए और उनका व्यापार चल निकला. बताते हैं कि उनके तीन अन्य भाई भी ज्वेलरी कारोबार से जुड़े हैं उन्होंने भी ऑनलाइन व्यापार साथ में ही शुरू किया. अब कोरोना संकट उनके व्यापार को प्रभावित नहीं कर पा रहा है. उन्होंने बताया कि ऑनलाइन व्यापार की तकनीकी अपनाकर वह खुश हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें