रिग्पा हॉस्पिटल एवं मेडिकल कॉलेज में हिमालय की जड़ी बूटियों से होगा इलाज

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 11:19 PM IST
  • आध्यात्मिक नगरी काशी में अब कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों का इलाज हिमालय की जड़ी बूटी के माध्यम से किया जाएगा. अगले साल सारनाथ स्थित केंद्रीय तिब्बती उच्च शिक्षा संस्थान में सोवा रिग्पा हॉस्पिटल एवं मेडिकल कॉलेज काम करना शुरू कर देगा.  
सारनाथ स्थित केंद्रीय तिब्बती उच्च शिक्षा संस्थान कैंपस में मेडिकल कॉलेज के साथ ही सोवा रिग्पा हॉस्पिटल का निर्माण भी कराया जा रहा

वाराणसी. बता दें कि सारनाथ स्थित केंद्रीय तिब्बती उच्च शिक्षा संस्थान कैंपस में मेडिकल कॉलेज के साथ ही सोवा रिग्पा हॉस्पिटल का निर्माण भी कराया जा रहा है. नवंबर माह के अंत तक अस्पताल का 70 फ़ीसदी पूरा हो चुका है. शेष 30 फ़ीसदी कार अगले साल मार्च 2021 में पूरे कर लिए जाएंगे. निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद दूसरे चरण में अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति के साथ ही संसाधनों की व्यवस्था की जाएगी. 

उक्त कार्य पूरे हो जाने के बाद इस मेडिकल कॉलेज कैंपस में तिब्बती चिकित्सा पद्धति की पढ़ाई तो होगी ही साथ ही हिमालय की जड़ी बूटियों के माध्यम से ह्रदय रोग मानसिक रोग मनोज शारीरिक रोग के साथी कैंसर जैसी गंभीर जानलेवा बीमारियों का मुकम्मल इलाज किया जाएगा.

IIT BHU में पहले चरण के प्लेसमेंट में 30 मल्टीनेशनल कंपनियों ने लिया इंटरव्यू

केंद्रीय तिब्बती उच्च शिक्षा संस्थान के निदेशक प्रोफेसर नवांग समतेन बताते हैं कि मार्च 2021 तक पहले चरण का कार्य पूरा हो जाएगा. बाद इसके कर्मचारियों की नियुक्ति व संसाधनों का प्रबंध कर अस्पताल को शुरू करा दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि संस्थान की ओर से सोवा रिग्पा हॉस्पिटल के लिए सांस्कृतिक मंत्रालय नई दिल्ली को साल 2016 में प्रस्ताव भेजा गया था. मंजूरी मिलने के बाद इसका निर्माण कार्य जारी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें