Sankashti Chaturthi 2022: नए साल में संकष्टी चतुर्थी कब-कब हैं, गणेश पूजा के लिए देखें सालभर की लिस्ट

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 22nd Dec 2021, 11:54 AM IST
  • संकष्टी चतुर्थी पर गणेश जी की पूजा करने से धन व बुध्दि की प्राप्ती होती है. साल के हर महीने में संकष्टी चतुर्थी पड़ती है. जानें साल 2022 में संकष्टी चतुर्थी कब-कब पड़ रही है. इस विधि-विधान से पूजा करने से गणेश जी होंगे प्रसन्न.
संकष्टी चतुर्थी 2022 (फाइल फोटो)

हिंदू कैलेंडर में प्रत्येक चंद्र माह में दो चतुर्थी तिथियां होती हैं. कृष्ण पक्ष के दौरान पूर्णिमा या पूर्णिमा के बाद एक को संकष्टी चतुर्थी के रूप में जाना जाता है और शुक्ल पक्ष के दौरान अमावस्या या अमावस्या के बाद एक को विनायक चतुर्थी के रूप में जाना जाता है.

वैसे तो संकष्टी चतुर्थी का व्रत हर महीने किया जाता है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण संकष्टी चतुर्थी पूर्णिमांत के अनुसार माघ के महीने में और अमावसंत के अनुसार पौष के महीने में आती है. यदि संकष्टी चतुर्थी मंगलवार को पड़ती है तो इसे अंगारकी चतुर्थी कहा जाता है और इसे अत्यधिक शुभ माना जाता है. संकष्टी चतुर्थी व्रत ज्यादातर पश्चिमी और दक्षिणी भारत में विशेष रूप से महाराष्ट्र और तमिलनाडु में मनाया जाता है.

Merry Christmas 2021 Images: इन खूबसूरत Photo के साथ दें बधाई, कहें-मेरी क्रिसमस

संकष्टी चतुर्थी व्रत:

संकष्टी चतुर्थी का व्रत भगवान गणेश के भक्त सुबह से शाम तक रहते हैं. संकष्टी का अर्थ है संकट के समय में मुक्ति होता है. इसलिए मान्यता है कि संकष्टी चतुर्थी का व्रत रखने से भगवान गणेश प्रसन्न होते हैं.  गणेश जी बुद्धि के सर्वोच्च स्वामी, सभी बाधाओं के निवारण के प्रतीक हैं. इसलिए यह माना जाता है कि इस व्रत को करने से सभी बाधाओं से छुटकारा मिल सकता है.

व्रत वाले दिन केवल फल, जड़ें (जमीन के नीचे एक पौधे का हिस्सा) और सब्जी उत्पादों का सेवन करना चाहिए. संकष्टी चतुर्थी का आहार में साबूदाना खिचड़ी, आलू और मूंगफली शामिल हैं. रात में चांद दिखने के बाद श्रद्धालु उपवास तोड़ते हैं और आहार ग्रहण करते हैं. जानें कब है 2022 में संकष्टी चतुर्थी  और क्या है पूजा करने का शुभ मुहूर्त.

इस साल कब-कब पड़ रही है संकष्टी चतुर्थी:

21 जनवरी 2022 दिन शुक्रवार माघ, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 21 जनवरी सुबह 8: 51 से 22 जनवरी सुबह 9:14

20 फरवरी 2022 दिन रविवार, फागुन, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 19 फरवरी रात 9:56 से 20 फरवरी रात 9:05 तक

21 मार्च 2022 दिन सोमवार, चैत्र, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहुर्त- 21 मार्च सुबह 8:20 से 22 मार्च सुबह 6:24 तक

19 अप्रैल 2022 दिन मंगलवार, वैशाख, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 19 अप्रैल दोपहर 4:38 से 20 अप्रैल दोपहर 1:52 तक

19 मई 2022 दिन गुरूवार, ज्येष्ठ, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 18 मई रात 11:36 से 19 मई रात 8:23 तक

17 जून 2022 दिन शुक्रवार, आषाढ़, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 17 जून सुबह 6:10 से 18 जून सुबह 02:59 तक

16 जुलाई 2022 दिन शनिवार, सावन, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 16 जुलाई दोपहर 1: 27 से 17 जुलाई सुबह 10:49 तक

15 अगस्त 2022 दिन सोमवार, भद्रपदा, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 14 अगस्त रात 10:35 से 15 अगस्त रात 09:01 तक

13 सितंबर 2022 दिन मंगलवार, अश्विन, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहुर्त- 13 अप्रैल सुबह 10:37 से 14 अप्रैल सुबह 10:25 तक

13 अक्टूबर 2022 दिन गुरूवार, कार्तिका, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 13 अक्टूबर सुबह 01:59 से 14 अक्टूबर सुबह 03:08 तक

12 नवंबर 2022 दिन शनिवार, मार्गशीर्षा, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 11 नवंबर रात 08:17 से 12 नवंबर रात 10:25 तक

11 दिसंबर 2022 दिन रविवार, पौष, कृष्ण चतुर्थी

शुभ मुहूर्त- 11 दिसंबर दोपहर 04:14 से 12 दिसंबर शाम 06:48 तक

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें