पहचान पत्र दिखाओ, किराने की दुकान से एलपीजी गैस पाऊं

Smart News Team, Last updated: 21/11/2020 08:23 PM IST
  • यदि आपके रसोई में खाना बनाते समय अचानक सिलेंडर खत्म हो जाए तो अब चिंता करने की बात नहीं है. सरकार ने कनेक्शन धारी गैस उपभोक्ताओं को इमरजेंसी में 5 किलोग्राम के सिलेंडर वाला एलपीजी गैस आसानी से उपलब्ध होने की सुविधा प्रदान की है. 
पूर्वांचल क्षेत्र में चुनिंदा किराने के दुकानदारों को भी 5 किलो वाले एलपीजी गैस सिलेंडर रखने की अनुमति प्रदान कर दी गयी है

वाराणसी. हालांकि सरकार की ओर से 5 किलो एलपीजी गैस वाले सिलेंडर पहले से ही गैस एजेंसियों, पेट्रोल पंप पर उपलब्धता सुनिश्चित की गई थी. लेकिन शनिवार को सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी समेत पूरे पूर्वांचल क्षेत्र में चुनिंदा किराने के दुकानदारों को भी 5 किलो वाले एलपीजी गैस सिलेंडर रखने की अनुमति प्रदान कर दी है. किराने के दुकानदारों को इसकी एजेंसी लेने के लिए इंडियन आयल कारपोरेशन लिमिटेड से रजिस्ट्रेशन कराना होगा.

इस बाबत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड के प्रबंधक पीयूष कुमार सिंह ने बताया कि वाराणसी और पूर्वांचल क्षेत्र के गैस उपभोक्ताओं को आपातकाल के समय अब किराने की दुकान पर भी 5 किलो वाले एलपीजी गैस सिलेंडर की उपलब्धता आज से सुनिश्चित कर दी गई है. उन्होंने बताया कि इस सुविधा का लाभ उन उपभोक्ताओं को मिल सकेगा जिनके पास 5 किलो वाले गैस सिलेंडर का कनेक्शन होगा.

चौकाघाट दोहरे हत्याकांड में किट्टू को संरक्षण देने में उसके चाचा और बहनोई अरेस्ट

उन्होंने 5 किलो वाले गैस कनेक्शन प्राप्त करने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस श्रेणी के सिलेंडर का कनेक्शन लेने के लिए ठीक वैसी ही प्रक्रिया है जैसे कि आम घरेलू सिलेंडरों के कनेक्शन प्राप्त करने की है. उन्होंने बताया कि आपातकाल में 5 किलो वाले एलपीजी सिलेंडर प्राप्त करने के लिए कनेक्शन धारी गैस उपभोक्ताओं को केवल अपना पहचान पत्र दिखाना होगा.

महानगर के महमूरगंज स्थित हर्ष गैस एजेंसी पर किराने की दुकान पर भी उक्त सैनी के गैस सिलेंडर की उपलब्धता का शुभारंभ करते हुए इंडियन आयल कारपोरेशन के कार्यकारी निदेशक एवं राज्य प्रमुख डॉक्टर भट्टाचार्य ने शुभारंभ मौके पर बताया कि आज के शुभारंभ छड़ में 5 किलोग्राम फ्री ट्रेड ऑफ एलपीजी के साथ ही फ्री डिलीवरी चेक व कैशलेस पेमेंट की जागरूकता अभियान की भी जल्द शुरुआत कर दी गई है. इसकी शुरुआत से अचानक रसोई गैस खत्म होने पर उन्हें तत्काल एलपीजी गैस आसानी से उपलब्ध हो सकेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें