पीएम आवास प्लस योजना से जल्द लाभान्वित होंगे वाराणसी के हजारों ग्रामीण

Smart News Team, Last updated: 13/10/2020 03:03 PM IST
  • देश भर से आवेदन मांगने के बाद बनारस के 60,373 लोग भी इसमें शामिल थे. शासन ने इसकी जांच कराने का फैसला लिया और पंचायत व कोआपरेटिव समेत अन्य विभागों के अफसरों को जांच की जिम्मेदारी दी गयी.
पीएम आवास प्लस योजना

वाराणसी. पीएम आवास योजना की हकीकत जानने हेतु सरकार द्वारा चलाई गई पीएम आवास प्लस योजना में किए गए 60373 आवेदनों की जांच के बाद 42,892 ग्रामीणों को आवास योजना हेतु पात्र पाया गया. एक माह से चल रही 14 बिंदुओं पर जाँच के बाद आवेदकों में से 17 हजार 481 अपात्रों के नाम हटा दिए गए. इसके बाद अब शासन से तय हुए लक्ष्य के अनुसार ही आवास आवंटित किया जाएगा.

पीएम आवास प्लस योजना में आनलाइन आवेदन करने वालों की जांच 14 बिंदुओं पर हुई. इसमें मुख्य रूप से आवेदन करने वाले के पास दोपहिया व चार पहिया वाहन और मछली पकड़ने की नाव भी नहीं होनी चाहिए. ट्रैक्टर व कृषि यंत्र, पचास हजार या इससे अधिक का किसान क्रेडिट कार्ड नहीं होना चाहिए. परिवार का कोई व्यक्ति सरकारी कर्मचारी न हो.

जमीन के नाम पर लुट गए जज साहब, 13 साल से हो रहे थे ठगी का शिकार, केस दर्ज

पंजीकृत गैर-कृषि उद्यम, आयकर व व्यापार कर देने वाला परिवार और घर में लैडलाइन फोन, रेफ्रिजरेटर व 2.5 एकड़ से ज्यादा संचित भूमि न हो. आवेदन मांगने के बाद बनारस के 60,373 लोग भी इसमें शामिल थे. शासन ने इसकी जांच कराने का फैसला लिया और पंचायत व कोआपरेटिव समेत अन्य विभागों के अफसरों को जांच की जिम्मेदारी दी गयी.

इस दौरान हुई जांच व पंचायत की खुली बैठक के बाद 17,481 आवेदक अपात्र और 42892 ग्रामीणों को पात्र पाया गया. फिलहाल पात्र लोग आवास के लिए दावा कर सकते हैं, पर आवासों का आवंटन कब तक होगा इस बारे में अधिकारी अभी कुछ साफ नहीं बता पा रहे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें