वाराणसी: फूल-माला चढ़ाकर भोले को रिझएँगे श्रद्धालु, मंदिर प्रशासन ने दी अनुमति

Smart News Team, Last updated: 27/09/2020 01:35 PM IST
  • वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर में कोरोना महामारी को देखते हुए मंदिर प्रशासन द्वारा भगवान भोलेनाथ के ऊपर फूल-माला चढ़ाने पर लगाया गया प्रतिबंध हटा लिया गया है. इससे श्रद्धालुओं को एक बार फिर से भगवान को फूल-माला अर्पित करने का सौभाग्य प्राप्त हो गया है. 
काशी विश्वनाथ मंदिर

वाराणसी।  करोना महामारी के चलते काशी विश्वनाथ मंदिर में फूल-माला, बेलपत्र चढ़ाने पर लगाया गया प्रतिबंध शनिवार से हटा लिया गया. मंदिर प्रशासन की ओर से जारी इस फरमान से एक बार फिर से श्रद्धालु भोलेनाथ पर फूल माला चढ़ा सकेंगे. श्रद्धालुओं को मिली इस अनुमति से मंदिर के पास फूल माला बेचने वालों के घरों में बंद पड़े चूल्हे एक बार फिर से जल उठे हैं.

उधर मंदिर प्रशासन की ओर से फूल-माला बेचने की अनुमति दिए जाने के बाद फूल माला बेचने वालों की दुकानों पर खरीदार जुटने शुरू हो गए हैं. इससे बिक्रेताओं के बुझे चेहरों पर रौनक लौट आई है.

वाराणसी: BHU की प्रथम चरण UG प्रवेश परीक्षा का परिणाम जारी, ट्विटर पर दी जानकार

बता दें कि इससे पहले मंदिर प्रशासन ने कोरोना महामारी बढ़ते देख मार्च माह में काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं की प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था. जिसको जून माह में मंदिर प्रशासन ने निर्णय लेते हुए शासन की ओर से जारी गाइड लाइन के तहत श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिया था. उधर मंदिर में सुरक्षा को लेकर पुलिस प्रशासन के भी पुख्ता इंतजाम बने हुए हैं. मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को पूरी चेकिंग के बाद मंदिर परिसर में प्रवेश दिया जा रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें