वाराणसी: काशी विश्वनाथ कॉरिडोर बना रही कंपनी को प्रदूषण पर नगर निगम का नोटिस

Smart News Team, Last updated: 05/10/2020 05:22 PM IST
  • वाराणसी नगर निगम ने श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण कर रही एक कंपनी को धूल उड़ने के कारण वायु प्रदूषण फैलाने का नोटिस दिया है.
बनारस हाल ही में आए प्रदूषण सर्वे में भारतीय शहरों में काफी प्रदूषित आंका गया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

वाराणसी: बढ़ते वायु प्रदूषण की वजह से वाराणसी नगर में प्रशासन ने अब ऐहतियात बरतनी शुरू कर दी है. शहर में जहां- कहीं भी निर्माण कार्य हो रहे हैं, संबंधित कार्यदायी संस्थाओं व ठीकेदारों को निर्माण स्थल कवर करने का नगर आयुक्त ने निर्देश दिया है. निर्माण के दौरान धूल न उड़े, इसके लिए पानी का बराबर छिड़काव करना होगा.

मशीन से सड़कों की सफाई शुरू हो गई है और किनारे पड़े मलबे का निस्तारण के लिए इंजीनियरिंग विभाग के मुख्य अभियंता को निर्देश दिया गया है. मलबे को लेकर अधिक सख्ती की जा रही है.बेतरतीब तरीके से इधर-उधर व खुले में कचड़ा या मलबा फेंकने वालों को चेतावनी दी जा रही है.ऐसे लोगों को चिह्नित कर जुर्माना लगाया जाएगा.

वाराणसी: स्थिर जल स्तर और ठहरा पानी कहीं बना न दे संक्रामक रोगों की कहानी

इसको देखते हुए नगर निगम ने श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण कर रही कंपनी को नोटिस दिया है. नगर आयुक्त गौरांग राठी ने शनिवार को मंदिर सीईओ सुनील कुमार वर्मा से बात की और उन्हें इस संबंध में अवगत कराया है. उन्होंने इसको देखते हुए नगर निगम ने श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण कर रही कंपनी को नोटिस दिया है. 

नगर आयुक्त गौरांग राठी ने शनिवार को मंदिर सीईओ सुनील कुमार वर्मा से बात की और उन्हें इस संबंध में अवगत कराया है. उन्होंने स्थानीय लोगों की शिकायत के आधार पर कॉरिडोर निर्माण से निकली मिटाई के सड़क पर गिरने की भी जानकारी दी. उन्होंने इसे साफ करने का कंपनी को आदेश भी दिया है.

नगर आयुक्त ने बताया कि कंपनी जो कर सकेगी वह तो करेगी ही, नगर निगम की ओर से भी सड़कों पर गिरी मिट्टी की सफाई कराई जाएगी ताकि वाहनों के गुजरने के दौरान हवा में धूल ना उड़े.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें