वाराणसी: अब मिनी सचिवालय से गांव की सरकार चलाने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: 27/11/2020 08:44 PM IST
  •  लेखपाल के हस्ताक्षर लेने के लिए गांव के लोगों को अपने ब्लॉक व तहसील कार्यालय की ओर दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी. शासकीय निर्देश के बाद ग्राम पंचायत में मिनी सचिवालय खोलकर गांव के लोगों को गांव में ही यह सुविधा उपलब्ध होने वाली है. इसके लिए वाराणसी प्रशासन की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई है.
फाइल फोटो

वाराणसी. बता दें कि पिछले दिनों सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गांव के पंचायत भवनों को मिनी सचिवालय मैं तब्दील किए जाने के साथ ही उनमें सचिवालय की तरह ही कामकाज कर गांव के लोगों को गांव में ही सरकारी सुविधाएं मुहैया कराए जाने के निर्देश जारी किए थे. मुख्यमंत्री के आदेश के बाद वाराणसी जनपद के ग्राम पंचायतों में मिनी सचिवालय खोले जाने की तैयारियां तेजी से शुरू कर दी गई है. वाराणसी जनपद में प्रस्तावित 180 नए पंचायत भवनों के निर्माण का कार्य शीघ्र पूरा किए जाने को लेकर जिला प्रशासन की ओर से कड़े निर्देश तो जारी किए ही गए हैं वहीं पंचायतों में पंचायत भवनों की मरम्मत वाह रंग रोगन के साथ ही उन्हें मिनी सचिवालय के रूप में विकसित करने की कार्रवाई भी तेज कर दी है.

वाराणसी जनपद के सेवापुरी विकासखंड की 87 ग्राम पंचायतों में से 52 ग्राम पंचायतों के भवनों को मिनी सचिवालय के रूप में विकसित करने का कार्य लगभग अंतिम चरण में है. वही मटुआ ग्राम पंचायत को मिनी सचिवालय के रूप में सजाया व संवर दिया गया है। ग्राम पंचायतों में मिनी सचिवालय के भवनों पर जिले के प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा विकास खंड स्तरीय एवं ग्राम पंचायत स्तरीय अधिकारियों के मोबाइल नंबर व उनके सचिवालय में बैठने का समय भी दीवाल पर अंकित कराया जा रहा है.

देव दीपावली पर PM मोदी के दौरे से पहले खजूरी में CM योगी ने किया निरीक्षण

ग्राम पंचायतों में मिनी सचिवालय के शुरू हो जाने से गांव के लोगों को जमीन की पैमाइश. खसरा खतौनी, इंतखाब, परिवार रजिस्टर की नकल व जरूरी दस्तावेजों पर सक्षम अधिकारियों के हस्ताक्षर कराने के लिए विकास खंड कार्यालय एवं तहसील कार्यालय की ओर दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी.

इस संबंध में मंडल आयुक्त बताते हैं कि ग्राम पंचायतों में मिनी सचिवालय के कार्य करने के बाद उन्हें और अधिक हाईटेक बनाने के लिए भी सरकार ने जरूरी कदम उठाते हुए प्रत्येक मिनी सचिवालय के साथ ही एक जन सेवा केंद्र खोले जाने का भी आदेश जारी किया है. इसको लेकर भी हमारी ओर से तैयारी शुरू कर दी गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें