आयातकों के साथ वर्चुअल कार्पेट फेयर से जागी कालीन उद्योग को उम्मीदें

Smart News Team, Last updated: 03/10/2020 04:00 PM IST
  • चार देशों के आयातकों के साथ तीन दिवसीय वर्चुअल कार्पेट फेयर समाप्त हो चुकी है।इसके बाद निर्यातकों में उत्साह है.
प्रतीकात्मक तस्वीर

वाराणसी: 29 सितम्बर से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड समेत चार प्रमुख देशों के साथ चल रहे वर्चुअल कारपेट फेयर खत्म हो चुका है. तीन दिवसीय वर्चुअल फेयर के दौरान निर्यातकों में काफी उत्साह काफी दिख रहा है. आयातकों से आनलाइन भेंट के बाद निर्यातकों के अंदर व्यवसाय सृजन की उम्मीद जगी है. शुक्रवार दोपहर वस्त्र मंत्रालय के सचिव रवि कपूर ने वेबिनार आयोजित की. इस दौरान सीईपीसी चेयरमैन सिद्धनाथ सिंह ने उन्हें अवगत कराया कि तीन दिवसीय फेयर के दौरान 76 आयातकों की आमद हुई है.

मिठाई दुकानदार की पिटाई करना पड़ा चौकी इंचार्ज को भारी, व्यापारियों का बवाल

वर्चुअल फेयर के लिये देश के 50 निर्यातकों में भदोही की भागीदारी 18 थी जबकि उत्तर प्रदेश के मीरजापुर, बनारस और आगरा के नौ निर्यातक शामिल रहे.आयातक द्वारा देश के 50 निर्यातकों के स्टॉल में जाकर हैंडमेड कालीन की गुणवत्ता चेक की गई है. इस संबंध में उन्होंने कई निर्यातकों से बातचीत भी शुरू की है. जनवरी में मेगा वर्चुअल फेयर आयोजित करने के लिए सहमति बनी है इसके लिये योजना जल्द शासन को उपलब्ध कराई जाएगी. कई और छोटे फेयर से दुनिया भर के आयातकों तक पहुंच बनाने की कोशिश होगी.

इस दौरान सीईपीसी के अधिशासी निदेशक संजय कुमार, बोर्ड के प्रशासनिक समिति के वरिष्ठ सदस्य उमेश कुमार गुप्ता मुन्ना, द्वितीय उपाध्यक्ष उमर हमीद, ओएन मिश्रा, संजय गुप्ता व वासिफ अंसारी समेत कई निर्यातक मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें