वाराणसी में खुला संकट मोचन का दरबार, मंडुवाडीह का बोर्ड हटा, बनारस का चढ़ा

Smart News Team, Last updated: 20/09/2020 08:27 AM IST
  • वाराणसी में 183 दिन बाद खुला जाएगा संकट मोचन का दरबार. एक बार में सिर्फ दस लोगों को मिलेगा प्रवेश, भक्तगण नहीं चढ़ा सकेंगे माला-फूल और प्रसाद. मंडुवाडीह का बोर्ड हटा, चढ़ा 'बनारस', स्टेशन पर डिजिटल डिस्प्ले बोर्ड और कोच डिस्प्ले भी बदला गया, डीआरएम ने किया निरीक्षण, सूचना बोर्ड व स्टाल से भी नाम हटाने के लिए कहा गया. केएन. गोविंदाचार्य गंगा यात्रा पर पहुंचे बनारस, शूलटंकेश्वर महादेव मंदिर में पूजन के बाद की मां गंगा की अर्चना, हनुमान चालीसा का पाठ, स्थानीय लोगों के साथ गंगा और समाज पर किया विचार विमर्श किया. बीएचयू के सेंट्रल लाइब्रेरी आए बिना ही अब पढ़ सकेंगे किताबें, सयाज जी राव गायकवाड़ केंद्रीय ग्रंथाल की बनी नई वेबसाइट, नए फीचर से काम होगा आसान, एक माह में लांचिंग की जाएगी. प्रेम में असफल युवक ने गोली मारकर आत्महत्या की, कपसेठी थाना क्षेत्र के सरावां गांव की घटना, पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा, युवक के पास से मिली डायरी में लिखा था सुसाइड नोट, खुद को जिम्मेदार बताया.

सम्बंधित वीडियो गैलरी